Monday, October 3, 2022
Home ब्लॉग दिल्ली शराब घोटाले का सच

दिल्ली शराब घोटाले का सच

अजय दीक्षित
यदि दिल्ली सरकार की आबकारी नीति के तहत कोई घोटाला हुआ है, तो सीबीआई जांच कर रही है। सीबीआई ने उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के आवास समेत सात राज्यों में कई ठिकानों पर एक साथ छापे मारे थे। दिल्ली में कारवाई करीब 15 घण्टे चली ।  सीबीआई के हाथ जो भी दस्तावेज, उपकरण, साक्ष्य लगे हैं, उन्हें जब्त कर लिया गया है । संभव है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी इस मामले में प्रवेश करे, क्योंकि प्राथमिकी साझा की गई है। अब सीबीआई सम्यक जांच करेगी, आरोपित लोगों से पूछताछ करेगी और अंतत: आरोप-पत्र अदालत में दाखिल करेगी। अदालत में जो भी दोषी पाया जाएगा, वह दंडित होगा। इसमें भाजपा की क्या भूमिका है? भाजपा निर्वाचित जनसेवकों का उत्पीडऩ क्यों कर रही है? पहले ख़बर आई कि सिसोदिया के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी कराया गया है। सिसोदिया चुने हुए जन प्रतिनिधि हैं। यह नीरव मोदी, ललित मोदी, मेहुल चौकसी और विजय माल्या की तरह न तो भगोड़े हैं और न ही उन्होंने बैंकों का पैसा हड़पा है। वह भारत सरकार की अनुमति के बिना देश के बाहर कहीं भी जा नहीं सकते। फिर लुकआउट सर्कुलर? जब यह विमर्श गंभीर हो गया, तो सीबीआई ने लुकआउट सर्कुलर का खंडन किया। क्या मज़ाक किया गया? आखिर बदनाम करने और फजीहत करने की यह पटकथा किसने लिखी थी? भाजपा के विभिन्न सांसद और प्रवक्ता घोटाले की राशि अलग-अलग आंकते रहे, जो लगातार गलत साबित होती रही।

सीबीआई की प्राथमिकी में घोटाले की राशि कुछ और लिखी है, लेकिन भाजपाई फुलफुलाकर 8000 करोड़ से 1100 करोड़ रुपए तक के खुलासे करते रहे। यह कैसी राजनीति है? जनता को क्यों भ्रमित किया जा रहा है? बेशक भाजपा देश में सत्तारूढ़ पार्टी है, लेकिन वह जांच एजेंसी नहीं है। हमारी जांच एजेंसियां स्वायत्त हैं और उनकी भूमिकाएं अलग-अलग हैं। बेशक सर्वोच्च अदालत भी सीबीआई को तोता मानती रहे, लेकिन भ्रष्टाचार के मामलों में उसकी जांच की मौलिकता असंदिग्ध है। सीबीआई भी प्रधानमंत्री के अधीन काम करती है, लिहाजा उनके इशारों को कैसे टाल सकती है? क्या जांच भी प्रधानमंत्री की इच्छा के मुताबिक की जाती है? बिल्कुल नहींज्यदि ऐसा ही होता, तो भारत में विपक्षी नेता जेलों में ही होते। बहरहाल कुछ दिनों से भाजपा सवालों की बौछार करती रही है कि दिल्ली में शराब घोटाला क्यों हुआ? नई नीति को छोड़ कर पुरानी आबकारी नीति को सरकार ने लागू क्यों किया ?  सुबह होती है और भाजपा का शोर शुरू हो जाता है, जबकि सीबीआई को जांच का जिम्मा दिया गया है। पलटवार में आम आदमी पार्टी (आप) अपने नेता अरविंद केजरीवाल को राष्ट्रीय विकल्प के तौर पर पेश कर रही है।

आप लगातार हुंकार भर रही है कि 2024 के आम चुनाव प्रधानमंत्री मोदी बनाम मुख्यमंत्री केजरीवाल होंगे। हालांकि केजरीवाल को समूचे विपक्ष ने सर्वसम्मत नेता के तौर पर स्वीकृति नहीं दी है। पटना से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और कोलकाता से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की अपनी अपनी पेशबंदियां हैं। दरअसल बुनियादी द्वंद्व यही है कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भाजपा केजरीवाल और आप की चुनावी संभावनाओं को कुचल देना चाहती है। इस साल और 2023 में करीब एक दर्जन राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। आम चुनाव से पहले भाजपा अपनी ज़मीन पुख्ता करना चाहती है, ताकि चुनौतियों को बेअसर किया जा सके, लेकिन विपक्ष अपनी जमीन तैयार करने की फिराक में है। कमोबेश 2024 के मद्देनजर हम आप को भाजपा के लिए बौनी-सी चुनौती भी नहीं मानते। दोनों में तुलना ही गलत है-हाथी बनाम पिद्दी। कहां 15 करोड़ से ज्यादा का काडर और करीब 400 सांसदों वाली पार्टी और कहां दिल्ली अर्द्धराज्य और पंजाब के कुल डेढ़ राज्यों तक सीमित आप, जिसका लोकसभा में एक भी सांसद नहीं है। मुख्यमंत्री वाली संसदीय सीट संगरूर भी आप हार चुकी है।

उत्तराखंड और गोवा में पार्टी के उम्मीदवारों की जमानतें जब्त हुई हैं। विपक्षी पाले में आज भी सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस है, जिसके साथ आप के समीकरण सहज नहीं हैं। यदि 2024 में मोदी और भाजपा को निर्णायक सी टक्कर देनी है, तो विपक्ष को अपना एक चेहरा अभी से तय करना होगा और उसके नेतृत्व के पीछे शिद्दत से लामबंद होना पड़ेगा। यह ऐसी रणनीति नहीं है, जो सीबीआई और ईडी की बिसात पर खेली जा सके। बहरहाल शराब घोटाले को उसकी परिणति तक जाने दीजिए और भाजपा अपने दूसरे काम करे, क्योंकि उसे राष्ट्रीय जनादेश हासिल करना है। शराब घोटाले को लेकर भाजपा जो कह रही है, या आम आदमी पार्टी का जो पक्ष है, उसमें विरोधाभास है, तथा कौन झूठ और कौन सच बोल रहा है, आम आदमी के लिए यह तय करना मुश्किल है। फिर भी आशा है कि जल्द ही सच आम आदमी के सामने आ जायेगा, जांच तो होने दीजिये ।

RELATED ARTICLES

नड्डा चुनाव तक बने रहेंगे!

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष के मामले में पिछला इतिहास दोहराए जाने की संभावना है। जिस तरह पिछले लोकसभा चुनाव से पहले अमित शाह...

तीसरा चुनाव आयुक्त है ही नहीं!

चुनाव आयोग के सामने बहुत बड़ा मामला लंबित है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उसे शिव सेना के बारे में फैसला करना है।...

विपक्षी एकता कितनी संभव?

अजीत द्विवेदी भारतीय जनता पार्टी 2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है। पार्टी एक-एक लोकसभा सीट पर काम कर रही है। पंजाब...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

देहरादून मे संपन्न हुआ दो दिवसीय फिक्की फ्लोर बाजार 

देहरादून। फिक्की फ्लो उत्तराखण्ड चैप्टर का दो दिवसीय फिक्की फ्लो बाजार आज धूम धाम से समाप्त हुआ । आज विधानसभा स्पीकर ऋतु खंडूरी फिक्की...

‘‘वेटरन सोल्जर्स सम्मान समारोह‘‘ में मुख्यमंत्री ने पूर्व सैनिकों को किया सम्मानित

सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान को देश का दूसरा चीफ ऑफ़ डिफेंस स्टाफ बनाया जाना देवभूमि के लिए गौरव का क्षण- मुख्यमंत्री। देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह...

बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अनुराग ठाकुर पहुंचे ऊना, आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर की बैठक

हिमाचल प्रदेश।  भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर रविवार को ऊना पहुंचे। नड्डा ने लालसिंगी में भाजपा कार्यालय का...

राज्यपाल ने टी.बी. एसोसिएशन ऑफ उत्तराखण्ड के टी.बी. के प्रति जनजागरूकता अभियान ‘‘टी.बी. सील’’ का किया अनावरण

देहरादून। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने राजभवन में टी.बी. एसोसिएशन ऑफ उत्तराखण्ड के टी.बी. के प्रति जनजागरूकता अभियान ‘‘टी.बी. सील’’ का...

उत्तरकाशी में महसूस किए गए भूकंप के झटके, नुकसान होने की कोई सूचना नहीं

उत्तरकाशी। जिला मुख्यालय और आसपास के क्षेत्रों में रविवार सुबह भूकंप का तेज झटका आया। भूकंप का झटका इतनी तेज था कि लोग घरों...

 राज्य स्तरीय समान नागरिक संहिता विशेषज्ञ समिति के सदस्यों ने गोपेश्वर मुख्यालय और जनपद रुद्रप्रयाग के अगस्त्यमुनि में लोगों से मिलकर सुने उनके सुझाव 

चमोली। जनपद के मुख्यालय गोपेश्वर में जनसामान्य के साथ बैठक का आयोजन महाविद्यालय परिसर में किया गया। इस बैठक में महिलाओं व युवाओं ने...

स्किन को नुकसान पहुंचा सकती हैं ये मेकअप रिमूविंग मिसटेक्स, जानें और बचें इनसे

मेकअप आज के समय में महिलाओं के दैनिक जीवन का हिस्सा बन चुका हैं। महिलाएं अपनी नेचुरल स्किन को और भी ज्यादा ब्यूटीफुल दिखाने...

वरुण धवन और कृति सैनन की भेडिय़ा का टीजर जारी, डरावने हैं दृश्य

वरुण धवन और कृति सैनन हॉरर फिल्म भेडिय़ा में जल्द नजर आएंगे। फिल्म 25 नवंबर को बड़े पर्दे पर आएगी। इसका निर्देशन अमर कौशिक...

CM धामी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर गांधी पार्क में उनकी मूर्ति पर माल्यार्पण कर दी श्रद्धांजलि

देहरादून।  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर गांधी पार्क, देहरादून में उनकी मूर्ति पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि...

CM धामी ने शहीद स्थल कचहरी में उत्तराखंड राज्य आन्दोलनकारी शहीदों को अर्पित की श्रद्धांजलि

देहरादून।  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को शहीद स्थल कचहरी में उत्तराखंड राज्य आन्दोलनकारी शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री ने कहा कि...

Recent Comments