Home राष्ट्रीय रामकिशोर साहू को सौंपी भाजपा ललितपुर की कमान

रामकिशोर साहू को सौंपी भाजपा ललितपुर की कमान

2019 लोकसभा चुनाव की जीत में समाचार पत्रों की सुर्खियों में रहे थे रामकिशोर साहू

ललितपुर। वैसे तो रामकिशोर साहू काफी जाना-पहचाना नाम है। यही नहीं भाजपा के प्रदेश व क्षेत्रीय संगठन में भी उन्हें एक तरह से तुरूप का इक्का भी समझा जाता है। क्योंकि 2018 में उन्हें भाजपा ललितपुर का प्रभारी बनाया गया था, लेकिन उन्होंने 8-9 माह में ही अपने कुशल नेतृत्व, वाकपटुता एवं आनुसांगिक संगठनों पर मजबूत पकड़ और सफल सहयोग के साथ बूथ स्तर तक कार्यकर्ताओं से सीधा सम्वाद स्थापित करके 2019 में झांसी-ललितपुर सीट से अनुराग शर्मा को बड़ी भारी जीत दर्ज करवायी थी। जिसमें ललितपुर जनपद से ही लगभग दो लाख वोटों से अनुराग शर्मा आगे रहे। उस समय समाचार पत्रों में उन्हें जीत का प्रमुख सूत्रधार, महानायक जैसी उपाधि से नवाजा गया था। अब विधानसभा चुनाव को लगभग 6 माह का समय बचा है। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी प्रदेश की प्रत्येक सीटों पर अपनी नजर तेज रख रही है। खासतौर पर बुन्देलखण्ड की 19 विधानसभा सीटों पर उसकी पैनी नजर है।

वर्ष 2017 में भाजपा ने अन्य पार्टियों को धूल चटाकर सभी सीटों पर जीत दर्ज की थी। पिछले कुछ समय से ललितपुर भाजपा संगठन और कार्यकर्ता गुटबाजी का शिकार रहे हैं। ललितपुर में तो जमीन से जुड़े पुराने भाजपाई लगभग नदारत ही रहे और तो और प्रदेश व क्षेत्र में लोगों तक इसकी शिकायतें बड़ी तेजी से पहुंचाई जा रहीं हैं। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी ने विधानसभा चुनाव सिर पर देखते हुये और कार्यकर्ताओं की नाराजगी को दूर करने के उद्देश्य से अपने तुरूप के इक्के रामकिशोर साहू को फिर से ललितपुर भाजपा की बागडोर सौंपी है और माना जा रहा है कि रामकिशोर साहू अपनी छवि के अनुरूप संगठन में जिले से लेकर बूथ तक अपने फैसले लेने के लिए स्वतंत्र होंगे।

कयास तो यह भी लगाये जा रहे हैं कि भाजपा टिकिट के लिए प्री मॉनीटरिंग करा रही है। ऐसे में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के पूर्व विभाग प्रचारक एवं वर्तमान में भाजपा कानपुर बुन्देलखण्ड के बेदाग छवि के महामंत्री रामकिशोर साहू को महती भूमिका दी गयी है। अब देखना है कि अरसे से नाराज कार्यकर्ताओं को वह किस हद तक सरकार की नीतियों के प्रचार-प्रसार में लगाकर वर्ष 2022 की बेतरणी पार कराते हैं।

RELATED ARTICLES

हिमाचल में पांच साल बाद सरकार बदलने का रिवाज इस बार भी रहा कायम

शिमला। हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की कुल 68 सीटें हैं और बहुमत के लिए 35 सीटों की आवश्यकता रहती होती है। अभी तक के...

हिमाचल विधानसभा चुनाव: रिवाज बदलेगा या राज, कड़े मुकाबले के बीच होगा कल फैसला

हिमाचल। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के चुनावी नतीजे गुरुवार 8 दिसंबर को आएंगे। इसके लिए भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों की धुकधुकी बढ़ गई है।...

दिल्ली एम्स में जल्द शुरु हो सकती है ऑनलाइन सेवाएं, ट्रायल रहा सफल

दिल्ली। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), दिल्ली में ऑनलाइन सेवाएं जल्द शुरू हो सकती हैं। 23 दिसंबर से प्रभावित हुईं ऑनलाइन सेवाओं को फिर से...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सिविल सेवा के 97वें कॉमन फाउंडेशन कोर्स के समापन समारोह को किया संबोधित

मसूरी । राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने शुक्रवार को लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी मसूरी में सिविल सेवा के 97वें कॉमन फाउंडेशन कोर्स के...

शादी के 10 दिन बाद हुई विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, जानिए पूरा मामला

देहरादून। शादी के 10 दिन बाद एक विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसका शव पति की मौसी के घर फंदे पर...

एयरटेल ने 184 देशों में यात्रा के लिये लांच किया ‘वर्ल्ड पास’ पैक

नयी दिल्ली । दूरसंचार सेवा कंपनी एयरटेल ने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की सेवाओं को चालू रखने के लिये ‘एयरटेल वर्ल्ड पास’ लॉन्च किया है। एयरटेल ने...

राष्ट्रपति ने नक्षत्र वाटिका का उद्धाटन कर किया पलाश पौधे का रोपण

देहरादून। महामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने शुक्रवार को उत्तराखण्ड प्रवास के दूसरे दिन प्रातः राजभवन स्थित राज प्रज्ञेश्वर महादेव मंदिर में विधिवत पूजा अर्चना...

शादी समारोह में तमंचे पर डिस्को करना पड़ा युवकों को भारी, पढ़िए पूरी खबर

हरिद्वार। हरिद्वार के श्यामपुर क्षेत्र में एक विवाह समारोह में दो युवकों को तमंचे लहराकर डिस्को करना भारी पड़ गया। एसएसपी अजय सिंह को भेजे...

युवक ने रचाईं तीन शादियां तो पत्नियों ने किया चौकी में हंगामा, जानिए पूरा मामला

कोटद्वार। कोतवाली में एक ऐसा दिलचस्प मामला सामने आया है जिसमें एक युवक ने बिना तलाक लिए दूसरी शादी कर ली। इसके बाद उसने दूसरी...

रेट्रो वॉकिंग क्या है और इससे कौन से 5 बड़े फायदे मिलते हैं?

रेट्रो वॉकिंग का मतलब पीछे की ओर यानी उल्टा चलना है और इसे रिवर्स वॉकिंग भी कहते हैं। नॉर्मल वॉकिंग की तुलना में यह...

हिमाचल में पांच साल बाद सरकार बदलने का रिवाज इस बार भी रहा कायम

शिमला। हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की कुल 68 सीटें हैं और बहुमत के लिए 35 सीटों की आवश्यकता रहती होती है। अभी तक के...

कंगना रनौत ने चंद्रमुखी 2 की शूटिंग की शुरू, तस्वीर शेयर कर दी जानकारी

अभिनेत्री कंगना रनौत पिछले कुछ समय से चंद्रमुखी 2 को लेकर चर्चा में हैं। यह 2005 में आई तमिल फिल्म चंद्रमुखी का सीक्वल है।...

जीएम फसलों को ना कहना होगा

भारत डोगरा हाल के वर्षो में किसानों के संकट का एक बड़ा कारण यह है कि उनकी आत्मनिर्भरता और स्वावलंबिता में भारी गिरावट आई है...

Recent Comments