Home स्वास्थय किचन गार्डन बनाना चाहते हैं तो इन टिप्स को जरूर करें फॉलो

किचन गार्डन बनाना चाहते हैं तो इन टिप्स को जरूर करें फॉलो

अगर आप अपनी रसोई को अलग लुक देना चाहते हैं तो यकीन मानिए किचन गार्डन बनाने का आइडिया आपके लिए बेस्ट रहेगा। इसके लिए आपको गार्डन में इस्तेमाल होने वाली चीजों और बजट को ध्यान में रखते हुए शुरूआत करने की जरूरत है। ये गार्डन बनाते समय पौधे चुनने से लेकर उनकी देखभाल करने तक कई बातों का ध्यान रखना होता है। अगर आप भी खूबसूरत किचन गार्डन बनाना चाहते हैं तो इन टिप्स को जरूर आजमाएं।

रसोई की पर्याप्त रोशनी वाली जगह को चुनें
अगर आप यह चाहते हैं कि आपके किचन गार्डन का सही तरह से विकास हो तो इसके लिए ऐसी जगह चुनें, जहां पौधों को पर्याप्त धूप और हवा मिल सके। वैसे अगर आपकी रसोई में खिडक़ी या फिर इसके पास ही बालकनी है तो ये जगहें किचन गार्डन के पौधों के लिए उपयुक्त हैं। इसके अतिरिक्त, किचन गार्डन के लिए हर्बस या फिर सब्जियों और फलों के बीज उच्चतम गुणवत्ता के चुनें।

गमले और कंटेनर
सही गमले और कंटेनर का करें चयन
अपने किचन गार्डन के लिए आप मिट्टी के गमले या फिर प्लास्टिक की बड़ी बोतलों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त, कांच के कंटेनरों का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, ध्यान रखें कि गमले और कंटेनर लगभग छह इंच लंबे हो और उनमें नीचे की ओर छेद हो ताकि मिट्टी से अतिरिक्त पानी बाहर निकल सके। वहीं, गमलों और कंटेनर के नीचे एक प्लेट रखें ताकि उनमें से निकलने वाला पानी पूरी रसोई में न फैलें।

सही मिट्टी को चुनें
पौधों के लिए ऐसी मिट्टी का चयन करना बेहतर है, जिसमें सभी पोषक तत्व सही मात्रा में मौजूद हों और मिट्टी की पानी सोखने की क्षमता भी बेहतर हो। हालांकि, किसी एक प्रकार की मिट्टी हर पौधों के लिए उपयुक्त नहीं होती है। वैसे दोमट मिट्टी लगभग सभी पौधों के लिए अच्छी मानी जाती है क्योंकि इसमें क्ले की मात्रा अधिक होती है। इस मिट्टी में उच्च पोषक तत्व और पानी सोखने करने की क्षमता भी अधिक होती है।

सीमित मात्रा में दें पौधों को पानी
जब आप सही मिट्टी और अच्छी गुणवत्ता वाले बीज पौधे के गमले में बो दें तो इसके बाद पौधे में सीमित मात्रा में पानी दें। अपने पौधों को पर्याप्त नमी प्रदान करने के लिए हर दो दिन में पानी दें। दरअसल, पौधों को तब पानी देना चाहिए, जब उसकी मिट्टी सूखी दिखाई दें। ऐसा करने से आप पौधों को अधिक पानी देने से बच सकते हैं। वहीं, मौसम को ध्यान में रखते हुए भी पौधों को पानी देना चाहिए।

RELATED ARTICLES

जानिए गर्मी में दिन में कितनी बार धोना चाहिए चेहरा, बनी रहेगी नमी

गर्मी में ताजगी बने रहने के लिए लोग दिन में कई बार चेहरा धोते हैं। कुछ लोगों को लगता है कि बार-बार फेस वॉश...

चारधाम यात्रा रूट पर अब नहीं जाएगी तीर्थयात्रियों की जान, हर 500 मीटर की दूरी पर पोर्टेबल ऑक्सीजन सिलेंडर रखने का निर्णय

देहरादून। चारधाम यात्रा रूट में तीर्थ यात्रियों की मौत के आंकड़े बढ़ने के बाद सरकार ने केदारनाथ पैदल यात्रा मार्ग पर हर 500 मीटर...

मच्छर भगाने के लिए कहीं आप तो नहीं कर रहे ये उपाय? हो सकता है जानलेवा

गर्मी के मौसम में मच्छरों ने भी आतंक ढा रखा है। मच्छर मलेरिया, डेंगू, चिकुनगुनिया जैसी खतरनाक बीमारियां फैलाते हैं ऐसे में इनसे बचना...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

चारधाम यात्रा में अव्यवस्थाओं पर भड़के यशपाल आर्य, बोले सिस्टम के नाकारापन के कारण पूरे देश में उत्तराखंड की छवि हो रही खराब

हल्द्वानी। चारधाम यात्रा की व्यवस्थाओं को लेकर नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने सरकार पर सवाल उठाए। कहा कि सरकार यात्रियों को बुनियादी सुविधाएं तक...

देहरादून पहुंचा पहाड़ का रसीला खट्टा मीठा फल काफल, जानिए इसके फायदे

देहरादून। सीजन के अंतिम दिनों में ही सही पहाड़ का रसीला काफल देहरादून पहुंच गया है। यह पहाड़ी फल कैंसर समेत कई बीमारियों की रोकथाम...

फर्जी राशन कार्ड धारकों के ख़िलाफ़ खाद्य विभाग की महिमा, “अपात्र को ना और पात्र को हां”, 1967 टोल फ्री नंबर पर करें शिकायत

देहरादून। खाद नागरिक आपूर्ती व उपभोगता मामले मंत्री रेखा आर्या ने आज बनबसा से वर्चुअल माध्यम से खाद्य विभाग की समीक्षा बैठक ली। बैठक में...

उत्तराखंड का आम बजट बनाने में आप भी दीजिये धामी सरकार को अपने अहम सुझाव, जानिए कैसे

देहरादून । उत्तराखंड सरकार आम बजट को लेकर राज्य के हर वर्ग से सुझाव लेगी। इसके लिए सरकार के स्तर से ईमेल आईडी जारी...

“मोक्ष” पर सियासत जारी, राजीव महर्षि ने लगाया भाजपा पर सनातन धर्म के अपमान का आरोप

देहरादून। चारधाम यात्रा पर लोग मोक्ष प्राप्ति के लिये आते हैं बयान के बाद उत्तराखंड की सियासत में उबाल है। भाजपा प्रवक्ता के बयान...

बद्रीनाथ हाईवे हनुमानचट्टी के बलदोड़ा में पत्थर गिरने से मार्ग हुआ अवरुध्द, विभिन्न स्थानों पर ठहरे यात्री

देहरादून। चमोली में बीती देर रात को तेज बारिश के चलते बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग के हनुमानचट्टी से आगे बलदोड़ा में चट्टान से पत्थर गिरने और...

शिक्षा विभाग में अपनी ढपली अपना राग, चहेतों के लिए एक्ट दरकिनार, बीमार शिक्षक कर रहे तबादलों का इंतजार

देहरादून। शिक्षा विभाग में शून्य सत्र के बावजूद पूरे साल तबादलों एवं शिक्षकों की संबद्धता का खेल चलता रहा, लेकिन बीमार शिक्षक तबादले का...

चारधाम यात्रा :- केदारनाथ और यमुनोत्री धाम में 31 मई तक पंजीकरण फुल, अब तक 2 लाख से अधिक श्रद्धालु कर चुके दर्शन

देहरादून। केदारनाथ और यमुनोत्री धाम में दर्शन करने के लिए 31 मई तक वहन क्षमता के अनुसार पंजीकरण फुल हो चुके हैं, जबकि बदरीनाथ...

विदेशी मुद्रा भंडार 1.8 अरब डॉलर घटकर 595.9 अरब डॉलर पर

मुंबई ।  देश का विदेशी मुद्रा भंडार 06 मई को समाप्त सप्ताह में लगातार नौवें सप्ताह गिरता हुआ 1.8 अरब डॉलर कम होकर 595.9 अरब...

जानिए गर्मी में दिन में कितनी बार धोना चाहिए चेहरा, बनी रहेगी नमी

गर्मी में ताजगी बने रहने के लिए लोग दिन में कई बार चेहरा धोते हैं। कुछ लोगों को लगता है कि बार-बार फेस वॉश...

Recent Comments