Home उत्तराखंड क्या तय हुई तीरथ की विदाई, शाह-नड्डा से मुलाकात का क्या निकला...

क्या तय हुई तीरथ की विदाई, शाह-नड्डा से मुलाकात का क्या निकला अर्थ? उत्तराखंड में बदलेगा CM?

नई दिल्ली/देहरादून। बड़ी खबर है कि उत्तराखंड में एक बार फिर मुख्यमंत्री बदला जा सकता है। त्रिवेंद्र सिंह रावत की जगह इसी साल मार्च में तीरथ सिंह रावत को सीएम बनाया गया था। अब जबकि राज्य में विधानसभा चुनाव होने में एक साल का वक्त भी नहीं रह गया है, भारतीय जनता पार्टी एक बार फिर सीएम बदलने के मूड में दिख रही है। वास्तव में, भाजपा आलाकमान द्वारा अचानक दिल्ली तलब किए जाने के बाद बुधवार को आधी रात के बाद उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की मुलाकात गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ हुई थी, लेकिन इसके बाद से सस्पेंस और अटकलों का दौर जारी है क्योंकि तीरथ रावत को गुरुवार शाम तक उत्तराखंड लौटना था, मगर अचानक उनकी वापसी रद्द हो गई।

मीडिया में कई खबरों के बीच बड़ी संभावना यह जताई जा रही है कि उत्तराखंड में चुनावों के मद्देनज़र एक बार फिर नेतृत्व बदला जा सकता है। हालांकि भाजपा ने संभावना पर फिलहाल कुछ न कहते हुए यही स्टैंड लिया है कि किसी मुख्यमंत्री का शीर्ष नेताओं से मिलना रूटीन का हिस्सा होता है। इसके बावजूद सूत्रों के हवाले से यह खबर आग की तरह फैल रही है कि तीरथ सिंह रावत सीएम के पद पर कुछ ही दिनों के मेहमान और हैं। इस खबर के तमाम पहलुओं को समझिए।

क्या निकला शाह नड्डा से मुलाकात का नतीजा?

तीरथ सिंह रावत ने बुधवार व गुरुवार की दरम्यानी रात पार्टी के आलाकमान से मुलाकात की, तो त्वरित खबरें यही आईं कि उपचुनाव को लेकर बातचीत हुई। लेकिन ताज़ा खबरें कह रही हैं कि पार्टी उपचुनाव के पक्ष में नहीं दिख रही है। टीओआई की खबर कह रही है कि रावत ने अपने संसदीय क्षेत्र पौड़ी गढ़वाल से ही चुनाव लड़ने का मन बताया है और इस सीट के खाली करवाए जाने का रास्ता भी, लेकिन सूत्रों के ज़रिये खबर कहती है कि पार्टी ने उपचुनाव का फैसला किया तो अन्य राज्यों में भी खाली सीटों पर उपचुनाव करवाने पड़ेंगे। इसलिए पार्टी उपचुनाव नहीं बल्कि अगले साल राज्य विधानसभा चुनाव पर फोकस कर रही है।

बुधवार आधी रात के बाद तीरथ सिंह रावत के साथ नड्डा और शाह की मुलाकात को लेकर बीजेपी ने आधिकारिक तौर पर अब तक पत्ते नहीं खोले हैं।

क्या तीरथ सिंह रावत के नेतृत्व में होगा चुनाव?

नहीं! सूत्रों के हवाले से एक अन्य खबर में कहा गया है कि बीजेपी आलाकमान तीरथ सिंह रावत और उत्तराखंड विधायकों के बीच मतभेद हैं। यहां तक कहा गया है कि एक वरिष्ठ भाजपा नेता ने तो विधायकों का पूरा साथ होने तक का दावा कर दिया है। इन मतभेदों को हवा देने का पार्टी का मन नहीं है और पार्टी 2012 वाली ही रणनीति अपनाकर चुनाव से कुछ ही महीने पहले फिर मुख्यमंत्री बदलने के मूड में आ गई है। हालांकि ये सभी खबरें सूत्रों के हवाले से हैं, लेकिन राज्य के समीकरण भी फिलहाल इनके समर्थन में इशारे दे रहे हैं। देखिए कैसे।

क्या हैं राज्य में सियासी सरगर्मियां?

तीरथ के दिल्ली जाने की खबरें तो मीडिया में चलती रहीं, लेकिन एक खबर जो चर्चा में नहीं आई कि 27 से 29 जून तक भाजपा ने उत्तराखंड चुनावों को लेकर जो चिंतन शिविर किया, उसके बाद राज्य के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज कुछ और विधायकों के साथ दिल्ली पहुंच गए। इधर, टीओआई ने यह भी लिखा कि पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बीते बुधवार को ही जूना अखाड़ा के महंत अवधेशानंद गिरि से ​हरिद्वार में मुलाकात की। बताया जा रहा है कि त्रिवेंद्र अपने पक्ष में संत समुदाय का समर्थन हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं।

दूसरी तरफ, त्रिवेंद्र सिंह रावत की सक्रियता को लेकर एक अन्य खबर कह रही है कि कुमाऊं दौरे से लौटने पर देहरादून में उनके स्वागत की तैयारियों को लेकर चर्चाएं ज़ोरों पर हैं। इधर, राज्य सरकार के प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने यही कहा कि दिल्ली दौरे पर मुख्यमंत्री तीरथ के साथ आलाकमान ने 2022 के विधानसभा चुनावों को लेकर ही चर्चा की है।

Source link

RELATED ARTICLES

25 मई तक चारधाम यात्रा रजिस्ट्रेशन बंद, तीर्थ यात्रियों की बढ़ी मुश्किलें

हरिद्वार। उत्तराखंड सरकार ने चारधाम यात्रा के लिए किए जा रहे पंजीकरण को 25 मई तक बंद कर दिया है। सरकार चारों धामों में...

पूर्व डीजीपी के उपान्यास का लोकार्पण, पत्नी एसीएस राधा रतूड़ी ने गाया मांगल गीत

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को सर्वे चौक स्थित आईआरडीटी सभागार में आयोजित कार्यक्रम में उत्तराखंड के पूर्व  पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी...

राज्यपाल ने आज सेंट जोसेफ एकेडमी के अलंकरण समारोह में किया प्रतिभाग

देहरादून। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह ने शनिवार को सेंट जोसेफ एकेडमी के अलंकरण समारोह में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया। उन्होंने युवा छात्रों को...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

25 मई तक चारधाम यात्रा रजिस्ट्रेशन बंद, तीर्थ यात्रियों की बढ़ी मुश्किलें

हरिद्वार। उत्तराखंड सरकार ने चारधाम यात्रा के लिए किए जा रहे पंजीकरण को 25 मई तक बंद कर दिया है। सरकार चारों धामों में...

पूर्व डीजीपी के उपान्यास का लोकार्पण, पत्नी एसीएस राधा रतूड़ी ने गाया मांगल गीत

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को सर्वे चौक स्थित आईआरडीटी सभागार में आयोजित कार्यक्रम में उत्तराखंड के पूर्व  पुलिस महानिदेशक अनिल रतूड़ी...

राज्यपाल ने आज सेंट जोसेफ एकेडमी के अलंकरण समारोह में किया प्रतिभाग

देहरादून। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह ने शनिवार को सेंट जोसेफ एकेडमी के अलंकरण समारोह में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया। उन्होंने युवा छात्रों को...

नहीं थम रहा चारधाम यात्रियों की मौत का सिलसिला, 18 दिन में हो चुकी है 54 यात्रियों की मौत

देहरादून। चारधाम यात्रा में हृदयगति रुकने से यात्रियों की मौत का सिलसिला नहीं थम रहा है। एक दिन पहले शुक्रवार को केदारनाथ व बदरीनाथ में...

केदारनाथ हैलीकॉप्टर यात्रा सेवा देने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाला गिरोह हुआ गिरफ्तार

देहरादून। चारधाम हैली टिकट बुकिंग के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले साइबर अपराधियों के खिलाफ उत्तराखंड पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने बड़ी कार्रवाई की...

राष्ट्रपति पुतिन का दावा- पश्चिमी देशों की ओर से हो रहे हैं साइबर हमले

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि यूक्रेन पर सैन्य कार्रवाई के मद्देनजर उनके देश को पश्चिम की ओर से साइबर हमलों का...

बिना ATM कार्ड के निकाल सकेंगे पैसा RBI ने किया नया नियम लागू

अब आप किसी भी बैंक एटीएम (Bank ATM) से बिना कार्ड के पैसा निकाल पाएंगे। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने बिना कार्ड के...

ज्ञानवापी विवाद:- सुप्रीम कोर्ट ने Places of Worship Act पर कही बड़ी बात, कैसे हिंदू पक्ष के लिए राहत

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने ज्ञानवापी मस्जिद के मामले को वाराणसी जिला अदालत को ट्रांसफर कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि ज्ञानवापी के...

सोफे को साफ और नया बनाए रखने के लिए अपनाएं ये तरीके

सोफा काफी महंगा आता है, इसलिए एक बार इसे खरीदने के बाद हम सालों-साल इसे बदलने पर विचार नहीं करते। इसके लिए जरूरी है...

जल्द शादी रचाएंगे अभिनेता अभय देओल

बॉलीवुड अभिनेता अभय देओल हाल के दिनों में फिल्मों से अधिक निजी जिंदगी को लेकर सुर्खियों में रहे हैं। सोशल मीडिया पर वह अपने...

Recent Comments