स्वास्थय

आखिर क्यों बढ़ रही है युवा पीढ़ी में मेमोरी लॉस की समस्या? यहां जाने इसके पीछे का कारण और उपाय

एक उम्र के बाद अक्सर हम किसी काम को करते समय भूल जाते हैं या याददाश्त कमजोर होने की परेशानी का सामना करते हैं. लेकिन आधुनिक जीवनशैली में युवा पीढ़ी के बीच मेमोरी लॉस की समस्या तेजी से बढ़ रही है. इसमें खराब लाइफस्टाइल मुख्य कारण हो सकता है. इसकी शुरुआत छोटी-छोटी चीजों से होती है और बाद में ना जाने किस हद तक आगे बढ़ जाती है. अगर आपके साथ भी ऐसा कुछ होता है तो आपको अपनी सेहत का थोड़ा सा ध्यान देने की जरूरत है. मेमोरी लॉस के पीछे कई कारण हो सकते हैं आइए ऐसी ही कुछ सामान्य आदतों के बारे में जानते हैं, जिसके कारण लोगों को याददाश्त से संबधित दिक्कतें हो सकती हैं।

मेमोरी लॉस का कारण

1. तनाव
आधुनिक जीवनशैली में तनाव और दबाव काफी आम हो गए हैं. इसके कारण, युवा लोग अक्सर मानसिक तनाव का सामना करते हैं, जो मेमोरी कमजोर होने का कारण बन सकता है।

2. अनियमित और असंतुलित आहार

बढ़ती हुई तेजी और बिजी जीवनशैली के कारण, युवा पीढ़ी अक्सर अनियमित और असंतुलित आहार का सेवन करती है. ऐसे में, उन्हें आवश्यक पोषक तत्वों की कमी हो सकती है, जो मेमोरी के लिए आवश्यक होते हैं।

3. नींद की कमी
युवा लोगों के बीच नींद की कमी भी आम हो गई है. अपर्याप्त नींद के कारण मेमोरी प्रभावित हो सकती है और याददाश्त में कमी हो सकती है।

4. नशे की लत
शराब और सिगरेट को युवा स्टेटस सिंबल से जोडक़र इसके आदी होते जा रहें हैं. शुरुआत में इसके प्रभाव के बारे में पता नहीं चलता है लेकिन धीरे-धीरे ब्रेन में डोपामाइन नामक न्यूरोट्रांसमीटर का स्त्रोत कम होने लगता है. डोपामाइन का मेन काम शरीर की कार्यप्रणाली को सही तरीके से चलाना है. ज्यादा शराब या सिगरेट पीने से डोपामाइन की कमी हो सकती है जिसकी वजह से याददाश्त कमजोर हो सकती है।

5. मोबाइल का अधिक प्रयोग
कम्यूटर और मोबाइल का अधिक प्रयोग भी मेमोरी लॉस की वजह हो सकती है. इससे निकलने वाली रेज ब्रेन के सिस्टम को बिगाड़ सकती है. ऐसे में मेलोट्रिनिन नामक न्यूरोट्रांसमीटर का स्त्राव बहुत कम हो जाता है जिससे उनमें अनिद्रा की दिक्कत होने लगती है जो आगे चलकर याददाश्त को कमजोर करती है।

6. जंक फूड है जिम्मेदार

जंक फूड ज्यादातर ऊपर से तैयार किया जाता है और इसमें पोषक तत्वों की कमी होती है. इसमें विटामिन, मिनरल, एंटीऑक्सिडेंट्स और दूसरे पोषक तत्व, जो दिमाग के लिए जरूरी होते हैं, बहुत कम मात्रा में पाए जाते हैं. ऐसे पोषक तत्वों की कमी दिमाग को सही तरीके से काम करने को असमर्थ कर सकती है. जंक फूड ज्यादातर व्यंगान, चीनी, तेल और आपके लिए हानिकारक फैट्स से भरा होता है जो की मोटापा का कारण भी हो सकता है।

इस तरह बनाए अपनी याददाश्त तेज
1. विटामिन- बी का ध्यान रखें
2. पॉलीफेनोल का ध्यान रखें
3. बेसिल सीड्स खाएं
4. मैग्नीशियम मेमोरी को बनाएगा शार्प
5. ब्रेन से जुड़ी एक्सरसाइज करें
6. हर्ब्स और मसालों से बढ़ाएं याददाश्त
7. मेडिटेशन रहेगा मददगार

ये सभी तरीका आपकी मेमोरी को ठीक करने में बेहतर साबित हो सकते हैं. इस बात का खास ध्यान दें कि अपनी डाइट में किसी भी प्रकार का बदलाव करने से पहले एक्सपर्ट की राय जरूर लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *