Home उत्तराखंड कांवड़ यात्रा : उत्तराखंड के बैन के बाद आयोजन को लेकर क्या...

कांवड़ यात्रा : उत्तराखंड के बैन के बाद आयोजन को लेकर क्या है उत्तर प्रदेश का रुख?

देहरादून/लखनऊ। ‘इस बारे में पड़ोसी राज्यों से काफी बातचीत के बाद निष्कर्ष यही निकला कि उत्तराखंड में नया वैरिएंट दस्तक दे चुका है और अब हम नहीं चाहते कि हरिद्वार महामारी का केंद्र बन जाए। लोगों की ज़िन्दगी हमारी प्राथमिकता है और हम कोई जोखिम नहीं लेना चाहते।’ यह बात उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को पत्रकारों से कही। डेल्टा प्लस वैरिएंट केस राज्य में मिलने के बाद कांवड़ यात्रा को इस साल रद्द करने के फैसले के बारे में सीएम ने साफ कहा कि विशेषज्ञों की चेतावनियों के बाद उत्तराखंड तीसरी लहर का कारण नहीं बनना चाहता। इस बैन के बाद पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश में नये सिरे से कांवड़ यात्रा को लेकर रणनीति बनने लगी है।

पिछले करीब डेढ़ हफ्ते से उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के बीच कांवड़ यात्रा के आयोजन को लेकर बातचीत चल रही थी। उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीएम धामी से एक से ज़्यादा बार फोन पर बातचीत भी की थी। इस बातचीत के बाद पिछले दिनों उत्तराखंड कांवड़ यात्रा पर लगभग सहमत भी हो गया था, लेकिन जानकारों की चिंताओं और चेतावनियों के बाद ताज़ा फैसले के तौर पर कांवड़ यात्रा को इस साल रद्द किया गया। हालांकि उप्र अब भी इस यात्रा के पक्ष में है और अपने स्तर पर आयोजन करवाने जा रहा है।

इस बार पश्चिमी उत्तर प्रदेश कांवड़ यात्रा का बड़ा केंद्र रहेगा।

प्रतिबंधों के साथ होगी उप्र में यात्रा

कांवड़ यात्रा वास्तव में उन श्रद्धालुओं की यात्रा है, जो गंगा के घाटों पर जाकर गंगाजल लेते हैं और अपने गांव या घर ले जाते हैं। वहां इस गंगाजल से देवी देवताओं का अभिषेक किया जाता है। 2019 में जब आखिरी बार यह यात्रा हुई थी, तब इसमें 3।5 करोड़ से ज़्यादा श्रद्धालु हरिद्वार पहुंचे थे। इस यात्रा का बड़ा केंद्र पारंपरिक तौर पर हरिद्वार रहा करता है, लेकिन इस साल उत्तराखंड के फिर इस यात्रा को निरस्त करने पर उप्र अपने स्तर पर आयोजन करवाएगा।

कानून व्यवस्था के लिए यूपी के एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा कि इस साल 25 जुलाई से 6 अगस्त के बीच कांवड़ यात्रा होगी। अधिकारियों ने यह भी बताया कि 2019 में इस यात्रा के दौरान 2 से 3 करोड़ श्रद्धालु पश्चिमी उप्र के तीर्थ स्थानों पर पहुंचे थे। इस साल कोविड प्रोटोकॉल के पालन के साथ ही यात्रा को मंज़ूरी दिए जाने की बात कही गई है और उप्र सरकार ने दावा किया है कि सुनिश्चित करवाया जाएगा कि कोविड नियमों का अनुशासन बना रहे।

गौरतलब है कि इस बार हरिद्वार के बजाय उप्र के बागपत, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, मेरठ, बुलंदशहर, हापुड़, अमरोहा, शामली, आगरा, अलीगढ़, सहारनपुर, बरेली, खेड़ी, बाराबंकी, अयोध्या, गोरखपुर, झांसी, संत कबीर नगर, बस्ती, वाराणसी, भदोही, मऊ, मिर्जापुर, सीतापुर और लखनऊ आदि ज़िलों में कां​वड़ियों का ट्रैफिक ज़्यादा रहेगा।

 

Source link

RELATED ARTICLES

आज हेमकुंड साहिब के लिए ऋषिकेश से रवाना हुआ श्रद्धालुओं का पहला जत्था

25 मई को खुलेंगे हेमकुंड साहिब के कपाट राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह ने श्रद्धालुओं के जत्थे को किया रवाना ऋषिकेश। हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा ऋषिकेश से...

एफपीपीसीए नियम के तहत बिजली के बिल में छह पैसे प्रति यूनिट की होगी बढ़ोतरी

इसी माह से की जाएगी बिजली के बिल में बढ़ोत्तरी  पूरे देश में लागू है एफपीपीसीए का यह नियम  देहरादून। बिजली के दामों के माहवार...

1 जुलाई से देशभर में लागू होने वाले तीन नए आपराधिक कानूनों के लिए उत्तराखंड पूरी तरह तैयार, जानिए क्या है यह तीन कानून  

 20 जून तक पूरे हो जाएंगे कानूनों की जानकारी के संबंध में सभी प्रशिक्षण देहरादून। पहली जुलाई से देशभर में लागू होने वाले तीन नए...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

आज हेमकुंड साहिब के लिए ऋषिकेश से रवाना हुआ श्रद्धालुओं का पहला जत्था

25 मई को खुलेंगे हेमकुंड साहिब के कपाट राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह ने श्रद्धालुओं के जत्थे को किया रवाना ऋषिकेश। हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा ऋषिकेश से...

आईपीएल 2024- एलिमिनेटर मुकाबले में आज रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरु से भिड़ेगी राजस्थान रॉयल्स

अहमदाबाद। आईपीएल 2024 के एलिमिनेटर मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरु की भिड़ंत राजस्थान रॉयल्स के साथ है। यह मुकाबला अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम...

एफपीपीसीए नियम के तहत बिजली के बिल में छह पैसे प्रति यूनिट की होगी बढ़ोतरी

इसी माह से की जाएगी बिजली के बिल में बढ़ोत्तरी  पूरे देश में लागू है एफपीपीसीए का यह नियम  देहरादून। बिजली के दामों के माहवार...

मोदी राज में भारतीय सेना और सीमा दोनों ही सशक्त और सुरक्षित हुए- अनुराग ठाकुर

शिमला। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा एवं खेल मामलों के मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने  हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में जनसंपर्क अभियान के दौरान...

1 जुलाई से देशभर में लागू होने वाले तीन नए आपराधिक कानूनों के लिए उत्तराखंड पूरी तरह तैयार, जानिए क्या है यह तीन कानून  

 20 जून तक पूरे हो जाएंगे कानूनों की जानकारी के संबंध में सभी प्रशिक्षण देहरादून। पहली जुलाई से देशभर में लागू होने वाले तीन नए...

फिल्म मिस्टर एंड मिसेज माही का दूसरा गाना ‘अगर हो तुम’ जारी, जाह्नवी कपूर और राजकुमार राव की दिखी खूबसूरत केमिस्ट्री

फिल्म मिस्टर एंड मिसेज माही की रिलीज का काउंटडाउन शुरू हो गया है। जान्हवी कपूर और राजकुमार राव अभिनीत रोमांटिक स्पोर्ट्स ड्रामा इस महीने...

दिव्यांग विद्यार्थियों को परीक्षा में मिलेगा अतिरिक्त समय

श्रुत लेखक की भी ले सकेंगे मदद, सरकार ने दी मंजूरी शिक्षा मंत्री डा. रावत ने कहा, दिव्यांग छात्रों को मिलेगी सभी सुविधाएं देहरादून। राज्य सरकार...

हद से ज्यादा आम खाना सेहत के लिए हो सकता है नुकसानदायक

गर्मियों का मौसम आते ही स्वादिष्ट और रसीले फल मैंगो लवर्स की एक्साइटमेंट देखने लायक होती है. फलों का राजा आम अपनी खास तरह...

कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने मनोज तिवारी की चुनाव रणनीति को दिया फाइनल टच 

नई दिल्ली/ देहरादून। कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने उत्तर पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी मनोज तिवारी के प्रस्तावित कार्यक्रमों के संबंध में...

जेजेपी को वोट देने का मतलब अपने वोट को खराब करना- सीएम धामी

खट्टर के नेतृत्व में हरियाणा बहुत आगे बढ़ा- सीएम पानीपत/ देहरादून। उत्तराखण्ड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने करनाल से भाजपा प्रत्याशी मनोहर लाल खट्टर...

Recent Comments