Home उत्तराखंड व्यासी परियोजना:आज से होगा ट्रायल के तौर पर विद्युत उत्पादन शुरू

व्यासी परियोजना:आज से होगा ट्रायल के तौर पर विद्युत उत्पादन शुरू

देहरादून। प्रदेश में भीषण गर्मी के बीच भारी बिजली किल्लत के समय में व्यासी परियोजना बड़ी राहत लेकर आएगी। उत्तराखंड जल विद्युत निगम लिमिटेड (यूजेवीएनएल) की ओर से बुधवार से यहां ट्रायल के तौर पर बिजली उत्पादन शुरू हो गया है। 20 अप्रैल से प्रदेश को बिजली मिलनी शुरू हो जाएगी।

व्यासी जल विद्युत परियोजना के तहत पानी को रोकने का काम लगभग पूरा हो चुका है। इस परियोजना की जद में लोहारी गांव आया है, जो अब जलमग्न हो चुका है। परियोजना के तहत बुधवार से जल विद्युत उत्पादन का ट्रायल शुरू हो गया है।इसके बाद कॉमर्शियल तौर पर विद्युत उत्पादन में थोड़ा समय लगेगा। यूजेवीएनएल के मुताबिक, 20 अप्रैल से उत्तराखंड को 353 मिलियन यूनिट बिजली मिलनी शुरू हो जाएगी। यमुना में जल स्तर बढ़ने के बाद यह परियोजना 120 मेगावाट तक बिजली उत्पादित करने लगेगी।

2014 में शुरू हुआ था निर्माण कार्य
व्यासी परियोजना जिले के हथियारी जुड्डो में यमुना नदी पर स्थित रन ऑफ रिवर जलविद्युत परियोजना है। आवश्यक समस्त स्वीकृतियों को प्राप्त करने के बाद वर्ष 2014 में परियोजना का निर्माण कार्य शुरू किया गया था। इस परियोजना की लागत 1777.30 करोड़ रुपये है। हम कल से ट्रायल शुरू कर रहे हैं। सिंक्रोनाइजेशन में थोड़ा समय लगता है। बिजली उत्पादन शुरू होगा। इसके बाद हम कॉमर्शियल उत्पादन शुरू कर देंगे। 20 अप्रैल से प्रदेश को 353 मिलियन यूनिट बिजली मिलनी शुरू हो जाएगी। – संदीप सिंघल, एमडी, यूजेवीएनएल

प्रदेश में गर्मी के साथ ही बढ़ा बिजली संकट:  प्रदेश में गर्मी बढ़ने के साथ ही बिजली का संकट बढ़ना शुरू हो गया है। रोजाना से 12 से 15 से करोड़ रुपये की बिजली खरीदने के बावजूद बिजली कटौती बढ़ती जा रही है। यूपीसीएल के लिए भी लगातार इतना खर्च करने से संकट बढ़ने लगा है। प्रदेश में बिजली किल्लत बढ़ने की वजह से अब कटौती उद्योग और गांवों के साथ ही छोटे कस्बों तक पहुंच गई है। मंगलवार को जहां दो घंटे फर्नेश उद्योगों में कटौती की गई तो ग्रामीण इलाकों में भी दो से ढाई घंटे की कटौती की गई। बिजली की कमी की वजह से मंगलवार को छोटे कस्बों में भी करीब एक से दो घंटे की कटौती की गई।

रोजाना 12 से 15 करोड़ का खर्च: यूपीसीएल के पास फिलहाल डिमांड 42.5 मिलियन यूनिट तक पहुंच गई है जबकि इसके सापेक्ष बिजली की उपलब्धता केवल 32 मिलियन यूनिट तक ही है। रोजाना 10 से 11 मिलियन यूनिट बिजली यूपीसीएल को 10 से 11 रुपये प्रति यूनिट के दाम पर खरीदनी पड़ रही है।

रियल टाइम मार्केट भी नहीं दे पा रहा सहारा: यूपीसीएल वैसे तो लगातार बिजली आपूर्ति पूर्ण करने की कोशिश कर रहा है लेकिन नेशनल एक्सचेंज के बाद रियल टाइम मार्केट से भी पर्याप्त बिजली नहीं मिल पा रही है। यूपीसीएल के एसई कॉमर्शियल गौरव शर्मा ने बताया कि इस वजह से रोजाना करीब तीन मिलियन यूनिट यानी 30 लाख यूनिट बिजली की कमी हो रही है, जिस वजह से कटौती करनी पड़ रही है।

RELATED ARTICLES

उत्तराखण्ड में साइबर अपराधी ने, डीजीपी का सोशल साइट पर बना लिया फर्जी एकाउंट

देहरादून। उत्तराखंड डीजीपी अशोक कुमार का किसी ने फर्जी ट्विटर अकाउंट बनाया है। पुलिस मुख्यालय की सोशल मीडिया सेल प्रभारी को जैसे ही इसकी...

महाभारतकालीन समय से रहे हैं उत्तर-पूर्वी राज्यों से हमारे संबंध: महाराज

श्रीनगर। हमारा देश एक राष्ट्र, एक ध्वज और एक आत्मा है। प्रतिष्ठित उत्सव अक्टेव-2022 जिस धरती पर हो रहा है, यही वह स्थान है...

पर्यटकों की भीड़ से कम पड़ी रोडवेज की बसें

देहरादून। पर्यटकों की भीड़  को देखते हुए रोडवेज ने मसूरी के लिए बसों के फेर बढ़ाए, बावजूद इसके बसों की किल्लत कम नहीं हो...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

व्हाट्सएप यूजर्स के लिए खास सुविधा शुरू, Whatsapp पर डाउनलोड होगा DL और PAN

नई दिल्ली। इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने व्हाट्सएप यूजर्स के लिए खास सुविधा शुरू की है। अब आप सिर्फ एक व्हाट्सएप मैसेज के जरिए...

कोरोना के बाद अब मंकीपॉक्स की दहशत ! मोदी सरकार ने राज्यों को किया अलर्ट, हरकत में आई उद्धव सरकार ने जारी की एडवाइजरी

नई दिल्ली। डब्लूएचओ के अनुसार मंकीपॉक्स एक वायरल जूनोटिक बीमारी है। यह जानवरों से मनुष्यों में फैलती है और फिर मनुष्य से मनुष्य में...

हिना खान ने बॉडीकॉन ड्रेस में फ्लॉन्ट किया फिगर, चौथे लुक ने आते ही मचा दिया कहर

बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस हिना खान इन दिनों कांस फिल्म फेस्टिवल 2022 में खूब धूम मचा रही हैं। हिना खान आए दिन कांस से...

भविष्य की आहट

राष्ट्रप्रेम की डींगों का धरातली आइना डा. रवीन्द्र अरजरिया दुनिया के सामने मातृभूमि की छवि धूमिल करने की एक कोशिश गोरों की धरती पर फिर हो...

उत्तराखण्ड में साइबर अपराधी ने, डीजीपी का सोशल साइट पर बना लिया फर्जी एकाउंट

देहरादून। उत्तराखंड डीजीपी अशोक कुमार का किसी ने फर्जी ट्विटर अकाउंट बनाया है। पुलिस मुख्यालय की सोशल मीडिया सेल प्रभारी को जैसे ही इसकी...

महाभारतकालीन समय से रहे हैं उत्तर-पूर्वी राज्यों से हमारे संबंध: महाराज

श्रीनगर। हमारा देश एक राष्ट्र, एक ध्वज और एक आत्मा है। प्रतिष्ठित उत्सव अक्टेव-2022 जिस धरती पर हो रहा है, यही वह स्थान है...

पर्यटकों की भीड़ से कम पड़ी रोडवेज की बसें

देहरादून। पर्यटकों की भीड़  को देखते हुए रोडवेज ने मसूरी के लिए बसों के फेर बढ़ाए, बावजूद इसके बसों की किल्लत कम नहीं हो...

हरकी पैड़ी पर गंगा आरती की अब हो सकेगी ऑनलाइन बुकिंग

देहरादून।  हरकी पैड़ी पर होने वाली गंगा की विश्व प्रसिद्ध मुख्य आरती को पहली बार ऑनलाइन बुक किया जा सकेगा। पहले तक श्रीगंगा सभा...

गोरीकुंड से केदारनाथ का सफ़र होगा और भी आसान, जानिए

देहरादून।  गौरीकुंड-केदारनाथ 16 किमी पैदल मार्ग पर ऑल टेरेन व्हीकल (एटीवी) चलाने की संभावनाएं तलाशी जाने लगी हैं। पर्यटन मंत्री ने लोक निर्माण विभाग...

95 साल के शख्स को 84 साल की महिला से हुआ प्यार, 40 मेहमानों की मौजूदगी में खाई साथ जीने-मरने की कसमें

लंदन। जरा सोचिए कि आप 95 साल की उम्र में क्या कर रहे होंगे? आप कहेंगे 95 साल की उम्र में कोई क्या कर...

Recent Comments