Tuesday, June 28, 2022
Home उत्तराखंड उत्तराखंड की रक्षा के लिए यूकेडी जरूरी: अनिरुद्व

उत्तराखंड की रक्षा के लिए यूकेडी जरूरी: अनिरुद्व

– संस्कृति और विरासत बचाने के लिए एकजुट हो पर्वतीय समाज

– कैंट विधानसभा क्षेत्र को बनाएंगे आदर्श विधानसभा

देहरादून। कैंट विधानसभा क्षेत्र से यूकेडी के उम्मीदवार अनिरुद्ध काला ने पर्वतीय समाज से एकजुट होने की अपील की है। उन्होंने कहा कि आज यदि पहाड़ को बचाना है तो हमें उत्तराखंड की संस्कृति का संवर्द्धन, संरक्षण और रक्षा करनी होगी। अनिरुद्ध काला ने कहा कि वह कैंट क्षेत्र से उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह पहाड़ की अस्मिता के सवाल पर लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनके पास कैंट विधानसभा को एक आदर्श विधानसभा बनाने के लिए रोडमैप है।
यूकेडी प्रत्याशी अनिरुद्ध काला आज एक रेस्तरां में मीडिया से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कैंट इलाके में पिछले 20 साल से विकास कार्य ठप है। यहां की जनता ने लगातार एक ही जनप्रतिनिधि को जिताने का काम किया, लेकिन विधायक क्षेत्रीय जनता की अपेक्षाओं पर खरा नहीं उतरा। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में समस्याओं की भरमार है। टूटी सड़कें, अतिक्रमण, गंदगी, स्वास्थ्य सेवाओं समेत बुनियादी समस्याओं का समाधान नहीं हो सका है।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वह कैंट क्षेत्र के विकास का रोडमैप लेकर जनता के बीच जा रहे हैं। वह कैंट विधानसभा में बुनियादी समस्याओं के साथ ही यहां असंगठित क्षेत्र के लोगों का रोजगार सुनिश्चित करने, कालोनियों में भागीदारी व्यवस्था, पीएचसी के साथ ही उच्च अस्पताल और सरकारी कालेज समेत विकास की अनेक मुद्दों को लेकर जनता के बीच जा रहे हैं।
यूकेडी प्रत्याशी अनिरुद्ध काला ने कहा कि यदि जनता का सहयोग मिला तो वह कैंट क्षेत्र को आदर्श विधानसभा बनाएंगे। उन्होंन कहा कि कैंट क्षेत्र में बच्चों को खेलने के लिए पार्कों की कमी है। इस कमी को दूर करने के लिए क्षेत्र के सभी सरकारी और निजी स्कूलों के खेल मैदानों को दोपहर बाद बच्चों के लिए उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अलावा हर तीन हजार की आबादी पर एक स्वास्थ्य केंद्र की व्यवस्था की जाएगी ताकि स्थानीय स्तर पर ही डाक्टर उपलब्ध हो सके।
अनिरुद्ध के मुताबिक यूकेडी ने राज्य निर्माण में अहम भूमिका अदा की है और यूकेडी ही राज्य को विकास के पथ पर ले जाएगा। उन्होंने कहा कि कैंट विधानसभा क्षेत्र में तत्कालीन विधायक ने न तो सरकारी कालेज ही शुरू किया और न ही यहां कोई तकनीकी संस्थान है जिससे युवाओं को स्किल्ड बनाया जा सकें। उन्होंने कहा कि क्षेत्र का विकास करने में कांग्रेस और भाजपा दोनों ही विफल रहे हैं। इसका कारण है कि दोनों दलों ने विकास की हर योजना में भ्रष्टाचार किया। यूकेडी भ्रष्टाचार के खिलाफ है। हम चाहते हैं कि विधायक निधि का भी आडिट हो ताकि विकास कार्यों में पारदर्शिता बनी रहे।

उक्रांद प्रत्याशी अनिरुद्ध के अनुसार पिछले 21 साल के दौरान कांग्रेस और भाजपा को जनता ने सत्ता सौंपी, लेकिन राष्ट्रीय दलों ने राज्य गठन की अवधारणा को महत्व नहीं दिया। अलग राज्य इसलिए चाहिए था कि पहाड़ के सुदूर गांव तक विकास की किरण पहुंच सके, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। भाजपा और कांग्रेस ने हमारे जल, जंगल और जमीन की लूट-खसोट की। इसका नतीजा रहा है कि आज पर्वतीय क्षेत्रों से पलायन और तेज हुआ है और पहाड़ वीरान हो रहे हैं। युवा नेता ने कहा कि यूकेडी ने पहले राज्य निर्माणप की लड़ाई लड़ी और अब वह राज्य संवारने की लड़ाई लड़ेगा। अनिरुद्ध काला ने दावा किया कि कैंट इलाके में उन्हें भरपूर समर्थन मिल रहा है। इस मौके पर उनके साथ समीर मुंडेपी, मीनाक्षी घिल्ड़ियाल, सोमेश बहुगुणा आदि नेता मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

यमकेश्वर के हेवंल नदी में आधी रात को बंधक बनाकर गाड़ी में किडनेप करके ले गए खनन माफिया, ऋषिकेश में की मारपीट

यमकेश्वर। जोगियाणा में खनन माफियाओं का आतंक इतना बढ़ गया है खुले आम स्थानीय लोगो के साथ मार पीट व जान लेने पर उतारू...

CM धामी ने LBS अकादमी में अमृत महोत्सव डिजिटल प्रदर्शनी का किया उद्घाटन

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी में आयोजित अमृत महोत्सव डिजिटल प्रदर्शनी एवं आजादी का...

हेल्थ सेक्टर में डिजिटल होता उत्तराखंड, आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के तहत अब तक बन चुकी हैं 22.44 लाख से अधिक डिजिटल हेल्थ आईडी

देहरादून । आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के अंतर्गत बन रही हेल्थ आईडी के महत्व को लेकर प्रदेशवासी काफी जागरूक हैं। इसी का नतीजा है...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

यमकेश्वर के हेवंल नदी में आधी रात को बंधक बनाकर गाड़ी में किडनेप करके ले गए खनन माफिया, ऋषिकेश में की मारपीट

यमकेश्वर। जोगियाणा में खनन माफियाओं का आतंक इतना बढ़ गया है खुले आम स्थानीय लोगो के साथ मार पीट व जान लेने पर उतारू...

CM धामी ने LBS अकादमी में अमृत महोत्सव डिजिटल प्रदर्शनी का किया उद्घाटन

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी में आयोजित अमृत महोत्सव डिजिटल प्रदर्शनी एवं आजादी का...

महाराष्ट्र में सरकार बनाने के काफी करीब पहुंची भाजपा, शिंदे गुट बोला वह भाजपा को ही देंगे समर्थन !

नई दिल्ली। महाराष्ट्र की सियासत अब उफान पर पहुंच गई है। लड़ाई अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुकी है। इस बीच कहा जा रहा है...

हेल्थ सेक्टर में डिजिटल होता उत्तराखंड, आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के तहत अब तक बन चुकी हैं 22.44 लाख से अधिक डिजिटल हेल्थ आईडी

देहरादून । आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के अंतर्गत बन रही हेल्थ आईडी के महत्व को लेकर प्रदेशवासी काफी जागरूक हैं। इसी का नतीजा है...

राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने दाखिल किया अपना नामांकन,

नई दिल्ली। राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने संसद भवन पहुंचकर नामांकन दाखिल कर दिया है। सिन्हा के नामांकन पत्र...

उत्तराखंड के सरकारी और प्राइवेट डॉक्टरों के लिए मेडिकल काउंसिल की सख्त गाइडलाइन, एथिक्स कमेटी की बैठक में लगी मुहर

देहरादून। उत्तराखंड मेडिकल काउंसिल एथिक्स कमेटी की बैठक में सरकारी और प्राइवेट डॉक्टरों के लिए सख्त गाइडलाइन पर मुहर लगी है। एथिक्स कमेटी की...

उत्तराखंड से दिल्ली जाने वाली रोडवेज की 250 में से 200 बसों पर 1 अक्तूबर से लग जाएंगे ब्रेक, जानिए क्या है वजह

देहरादून। दिल्ली सरकार ने उत्तराखंड सरकार को सिर्फ बीएस-6 बसों को ही एंट्री देने का पत्र भेजा है। इस पत्र मिलने के बाद विभाग...

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा कोविड-19 से हुए संक्रमित

लीसेस्टर। इंग्लैंड के खिलाफ बर्मिघम के एजबेस्टन में एक जुलाई से शुरू होने वाले पांच दिवसीय टेस्ट मैच से पहले भारतीय टीम के कप्तान...

जीएसटी परिषद की बैठक: दरों में बदलाव पर चर्चा संभव, राज्यों को क्षतिपूर्ति शीर्ष एजेंडा

नयी दिल्ली। इस सप्ताह चंडीगढ़ में होने वाली जीएसटी परिषद की बैठक में कुछ वस्तुओं की जीएसटी दरों में बदलाव किया जा सकता है,...

यूक्रेन से लौटे मेडिकल छात्रों, परिजनों ने अनशन शुरू किया, आत्मदाह की चेतावनी दी

नई दिल्ली। यूक्रेन से करीब 3 महीने पहले लौटे भारतीय छात्र अपनी आगे कि पढ़ाई को लेकर काफी चिंतित हैं, उनके साथ उनके माता-पिता...

Recent Comments