Home स्वास्थय रातो की नींद उड़ा सकती हैं बलगम की समस्या, इन घरेलू नुस्खों...

रातो की नींद उड़ा सकती हैं बलगम की समस्या, इन घरेलू नुस्खों से मिलेगा छुटकारा

मॉनसून का मौसम जारी है जहां संक्रमण की वजह से मौसमी बीमारियों का खतरा बना रहता हैं। खासतौर से इन दिनों में खांसी, जुखाम और बुखार का सामना करना पड़ता हैं। इसी के साथ ही कई लोगों को बलगम की समस्या भी होने लगती हैं जिसमें सीने में काफ जमने लग जाता हैं और सांस लेने में भी परेशानी होती हैं। कई लोगों को तो बलगम के कारण रात को नींद तक नहीं आती हैं। इससे निजात पाने के लिए लोग तरह-तरह की दवाओं की मदद लेते हैं। लेकिन आज इस कड़ी में हम आपके लिए कुछ ऐसे घरेलू नुस्खें लेकर आए है जिनकी मदद से बलगम की दिक्कत को आसानी से दूर किया जा सकता है। आइये जानते है इन उपायों के बारे में…

काली मिर्च
सीने में कफ जमा होने की समस्या में काली मिर्च का सेवन बहुत लाभकारी है। आधी चम्मच सफेद कालीमिर्च को पीस लें। इसमें 1 चम्मच शहद मिला लें। इस मिक्सचर को 10-15 सेकेंड माइक्रोवेव करें। फिर पी लें। इसे पीते ही आपको फौरन आराम मिलेगा। बलगम से पूरी तरह छुटकारा पाने के लिए इस मिक्चर को एक हफ्ते तक दिन में तीन बार जरूर लें। यह सर्दी-जुकाम, गले की खराश, सूजन और कफ से छुटकारा दिलाने में बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है।

नमक के पानी से गरारे
सीने में जमे बलगम को डिस्चार्ज करने के लिए आप नमक के पानी से गरारे करें। इसके लिए आप गुनगुने पानी में थोड़ा सा नमक मिलाकर इससे दिन में दो-तीन बार तक गार्गल करें। इससे आपको काफी राहत मिलेगी।

अदरक और शहद
ताजा अदरक का रस और शहद लेकर इसे मिक्स कर लें। फिर इसे सुबह शाम लें। अदरक का रसबलगम को तोडऩे में मदद करेगा और शहद की स्क्रैपिंग कार्रवाई इसे साइनस से बाहर निकालने में मदद करेगा। जी हां आपकी किचन मौजूद अदरक सब्जी का स्वाद बढ़ाने के साथ हेल्थ से जुड़ी कई समस्याओं का रामबाण इलाज है। इसकी तासीर गर्म होती है। अदरक खाने से खांसी-जुकाम और बलगम जैसी परेशानियों से बचा जा सकता है। साथ ही इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट भी होता है जो जमा टॉक्सिन को साफ करता है और बलगम दूर करता है।

भाप लेना
गर्म भाप लेने से बलगम ढीला हो जाता है और आसानी से बाहर आ सकता है। यह सर्दी जुकाम को ठीक करने और बलगम को बाहर निकाने का सबसे असरदार घरेलू नुस्खा है। सोने से पहले रात में भाप लेना अधिक प्रभावी होता है इसके अलावा आप दिन में 3 से 4 बार भाप लेने का प्रयास जरुर करें। बलगम का घरेलू उपचार करने के लिए विक्स को गर्म पानी में मिला कर और अपने सर को एक तोलिये या टाबिल की मदद से पूरी तरह ढक कर भाप लें। आप चाहे तो केवल गर्म पानी की भाप भी ले सकते है।

हल्दी
हल्दी में बहुत ही प्रभावी एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो बलगम में मौजूद बैक्टीरिया को मारते हैं। इस तरह कफ बनना रुक जाता है। इसके साथ ही हल्दी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी मदद करती है। सबसे पहले एक चम्मच हल्दी को एक ग्लास दूध में डाल दें। फिर इस मिश्रण को सुबह और रात को सोने से पहले पिएं। या फिर आप पूरे दिन में दो से तीन बार आधा चम्मच हल्दी को पानी के साथ खाएं।

नीलगिरी का तेल
नीलगिरी के तेल की कुछ बूंदों को स्टीमर में डालकर इसकी स्टीम लें। स्टीम की गर्मी किसी भी अटके हुए बलगम को ढीला और चिकना करने में मदद करती है। नीलगिरी का तेल इसे तोडऩे का काम करता है। इसके अलावा नीलगिरी के तेल में एंटी-वायरस और एंटी-बैक्टीरियल हीलिंग गुण ब्लॉकेज में सुधार करते हैं।

तुलसी और अदरक की चाय
तुलसी और अदरक दोनों ही एंटी-इन्फ्लेमेटरी, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुणों से भरपूर होती हैं। यह सर्दी-खांसी, जुकाम आदि में तुलसी और अदरक की चाय पीने से बहुत आराम मिलता है। आप चाहें तो दोनों का काढ़ा बनाकर भी पी सकते हैं। इससे कफ आसानी से बाहर निकलता है।

RELATED ARTICLES

पैसिव स्मोकिंग से शरीर को होती हैं कई हानियां, सिगरेट पीने वालों से बनाएं दूरी

सभी जानते हैं कि धूम्रपान करना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। इसके साथ ही पैसिव स्मोकिंग (धूम्रपान करने वालों के बीच रहकर न...

आज से ही छोडक़र देखिए आलू, महीनेभर में समझ आ जाएगा फर्क, होंगे जबरदस्त फायदे

आलू सब्जियों का राजा कहा जाता है। हमारे किचन में आलू की खास जगह है। आलू से कई चीजें बनाई जाती है. बहुत से...

अगर आप भी पिंपल और ऑयली स्किन से हैं परेशान तो कर लीजिए इन चीजों से परहेज

ऑयली स्किन के लोगों को अपनी त्वचा का विशेष ख्याल रखना होता है। ऐसी स्किन सेंसिटिव होती है और रिएक्शन के आसार जल्दी होते...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

सरकार ने रेलवे यात्रियों को दी बड़ी राहत, 50 प्रतिशत तक घटा दिया ट्रेनों का किराया 

नई दिल्ली।  लोकसभा चुनाव से पहले सरकार ने रेलवे यात्रियों को बड़ी राहत दी है। रेलवे द्वारा पैसेंजर ट्रेन के किरायों को प्री-कोविड स्तर...

अनुपयोगी घाटियां व जमीनों में उगायी जाएगी मंडुआ, झंगोरा एवं चौलाई

सीएस ने क्षेत्र विस्तार की कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए देहरादून।  मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी ने मंडुआ, झंगोरा व चौलाई का उत्पादन बढ़ाने...

भाई के सिर पर सब्बल से हमला कर की हत्या, पिता को भी किया घायल, आरोपी गिरफ्तार

पंजाब। खन्ना के गांव पूनिया में छोटे भाई ने अपने बड़े भाई के सिर पर सब्बल (औजार) से हमला कर उसकी हत्या कर दी।...

उत्तराखंड पुलिस ने वाहनों के चालान से 43.52 करोड़ कमाए

सी.पी.यू ने 1.14 लाख व अन्य ने 7.28 लाख  चालान काटे काशीपुर। बीते साल 2023 में उत्तराखंड पुलिस ने 8 लाख 42 हजार वाहन चालान...

देश के ताकतवर हस्तियों की रेस में सीएम धामी ने लगाई लंबी छलांग

देश के सौ सबसे ताकतवर प्रमुख व्यक्तियों में सीएम धामी 61 वें पायदान पर देहरादून। लोकसभा चुनाव के दावेदारों के दिल्ली में जारी मंथन के...

उच्च शिक्षा में शोध, छात्रवृत्ति व निःशुल्क कोचिंग का मिलेगा अवसर

सरकार ने वर्ष 2024-25 के बजट में किया 7.64 करोड़ का प्रावधान देहरादून। सूबे की शिक्षा व्यवस्था में गुणात्मक सुधार के लिये सरकार ने बजट...

केआइएसएस मानवतावादी सम्मान से सम्मानित किए गए माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक बिल गेट्स

भुवनेश्वर। माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक तथा वैश्विक समाज सेवी, बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह-अध्यक्ष बिल गेट्स को उनके सामाजिक कार्यों के लिए...

उत्तराखण्ड के सात लोक कलाकारों को संगीत नाटक अकादमी पुरुस्कार

वर्ष 2022-23 के लिए संगीत नाटक अकादमी सम्मान की घोषणा देहरादून।  संगीत नाटक अकादमी ने अपने पुरस्कारों की घोषणा कर दी है। ये पुरस्कार राष्ट्रपति...

ऊनी कपड़े रखते समय जरूर रखें इन बातों का ध्यान, हमेशा दिखेंगे नए जैसे

जैसे ही सर्दियां खत्म होने वाली होती हैं, हम लोग अब अपने गर्म कपड़े, खासकर ऊनी कपड़े, संभाल कर रखने की सोचते हैं. ये...

पंचायतों के सशक्तिकरण के लिए पंचायत मंत्री ने सदन में प्रस्तुत किया संकल्प पत्र

महाराज ने कहा सबसे पहले पंचायतों को अपने विभागों का करेंगे स्थानांतरण देहरादून। पंचायतीराज मंत्री सतपाल महाराज ने सदन में भारत के संविधान की...

Recent Comments