Tuesday, October 4, 2022
Home राष्ट्रीय अद्भुत होगा सफर जब बादलों में से गुजरेगी आपकी ट्रेन, ये है...

अद्भुत होगा सफर जब बादलों में से गुजरेगी आपकी ट्रेन, ये है दुनिया का सबसे ऊंचा चिनाब ब्रिज

नई दिल्‍ली । दुनिया के सबसे ऊंचे चिनाब रेलवे ब्रिज का शनिवार को शुभारंभ हुआ। इस पुल के साथ आजादी के बाद पहली बार श्रीनगर देश के बाकी हिस्‍से से जुड़ जाएगा। यह ब्रिज इंजीनियरिंग का बेजोड़ नमूना है। य‍ह पुल चिनाब नदी पर बना है। एफिल टावर (324 मीटर) से यह 35 मीटर ऊंचा है। वहीं कुतुब मीनार के मुकाबले इसकी ऊंचाई लगभग 5 गुना ज्‍यादा है। इस ब्रिज को भूकंप और धमाकों का खतरा नहीं है। रणनीतिक लिहाज से भी यह काफी महत्वपूर्ण है।

इस ब्रिज से ट्रेन के जरिये सेनाएं आसानी से आ-जा सकेंगी। इसका काम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में शुरू हुआ था। इसका निर्माण मुंबई की दिग्‍गज इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर कंपनी ।बिवदे ने किया है। इस प्रोजेक्‍ट पर करीब 28,000 करोड़ रुपये की लागत आई है। इस पुल का निर्माण 2002 में शुरू हुआ था। तब अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री थे। सुरक्षा और अन्य कारणों से इसका काम 2008 में रोक दिया गया था। फिर 2010 में काम दोबारा चालू हुआ। अब यह बनकर तैयार हो गया है। दुनिया के सबसे ऊंचे इस सिंगल-आर्च रेलवे ब्रिज पर ओवरआर्क डेक का अंतिम टुकड़ा आज लॉन्च हुआ। इसे गोल्डन जॉइंट भी कहा जाता है। इसके जरिये सीधे ट्रेन से कश्मीर पहुंचा जा सकेगा।

28 हजार करोड़ रुपये का आया है खर्च
यह ब्रिज रणनीतिक महत्व रखता है। जहां यह ब्रिज बना है, वहां से दो अंतरराष्ट्रीय सीमाएं ज्यादा दूर नहीं हैं। इस ब्रिज से ट्रेन के जरिये सेनाएं आसानी से आ-जा सकेंगी। चिनाब रेलवे पुल जम्‍मू के कटरा और कश्‍मीर के बन‍िहाल के 111 किलोमीटर लंबे दुर्गम रास्‍ते को जोड़ने का काम करेगा। यह पुल ऊधमपुर-श्रीनगर-बारामूला रेल लिंक प्रोजेक्‍ट का हिस्‍सा है। इस प्रोजेक्‍ट पर करीब 28 हजार रुपये की लागत आई है।

कश्‍मीर को बाकी भारत से जोड़ता है

दुनिया का सबसे ऊंचा यह सिंगल-आर्च रेलवे ब्रिज इंजीनियरिंग का बेजोड़ नमूना है। यह पुल रेलवे के इंजीनियर्स के लिए बड़ी उपलब्धि है। करीब 120 सालों तक इस पुल का कुछ भी नहीं बिगड़ेगा। भारतीय रेलवे नेटवर्क की 272 किलोमीटर श्उधमपुर-कटरा-काजीगुंड -बारामुलाश् राष्ट्रीय रेल परियोजना लाइन के जरिये कश्मीर घाटी को बाकी भारत के साथ जोड़ा जाना है।

एफिल टावर, कुतुब मीनार इसके आगे बौने
दुनिया का सबसे ऊंचा यह रेलवे आर्क ब्रिज नदी से काफी ऊपर है। यह पुल चिनाब नदी पर बना है। इस पुल की नदी तल से ऊंचाई 359 मीटर है। यह पुल पेरिस के एफिल टॉवर (324 मीटर) से 35 मीटर ऊंचा है। कुतुब मीनार के मुकाबले इसकी ऊंचाई करीब 5 गुना ज्‍यादा है। इस पुल की लंबाई 1,315 मीटर है। इसमें 467 मीटर का मेन आर्क स्पैन है। यह अब तक बनी किसी भी ब्रॉड गेज लाइन का सबसे लंबा आर्क स्पैन है।

न भूकंप हिला पाएगा न धमाके

इस ब्रिज का भूकंप भी कुछ नहीं बिगाड़ सकता है। यह रेल पुल 40 किलोग्राम टीएनटी (विस्फोटक) के धमाकों और रिक्टर स्केल पर आठ की तीव्रता वाले भूकंप को सहने की क्षमता के साथ डिजाइन किया गया है। यहां तक कि विस्फोट के बाद भी ट्रेन 30 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से इस पर से गुजर सकती है।

RELATED ARTICLES

बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अनुराग ठाकुर पहुंचे ऊना, आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर की बैठक

हिमाचल प्रदेश।  भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर रविवार को ऊना पहुंचे। नड्डा ने लालसिंगी में भाजपा कार्यालय का...

कुल्लू के ढालपुर में 15 से 20 मिनट तक रुकेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

हिमाचल प्रदेश।  पांच अक्तूबर को शुरू होने वाले कुल्लू दशहरा की भगवान रघुनाथ की रथयात्रा को देखेंगे। वह ढालपुर और रथ मैदान में मात्र...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया ऐलान, शहीद भगत सिंह के नाम पर रखा जाएगा चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम

पंजाब।  चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम शहीद भगत सिंह के नाम पर रखा जाएगा। यह एलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात में...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

सीएम धामी ने प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अंतर्गत 547 करोड़ रुपए लागत की 9 योजनाओं का किया शिलान्यास  

इन 9 योजनाओं में 7776 मकान बनाए जाएंगे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सभी गरीबों को घर का सपना हो रहा साकार: सीएम नैनीताल/उधम सिंह...

दुनिया की सबसे बड़ी दोपहिया वाहन निर्माता कंपनी हीरो ने सितंबर में बेचे 5,19,980 वाहन

नई दिल्ली। दुनिया की सबसे बड़ी दोपहिया वाहन निर्माता कंपनी हीरो मोटोकॉर्प ने मासिक आधार पर 12.4 प्रतिशत की वृद्धि के साथ सितंबर 2022 में...

आखिर क्यों त्योहारी सीजन में हो सकती है लोगों को टैक्सियों की मारामारी, जानिए वजह

देहरादून।  त्योहारी सीजन में टैक्सियों की मारामारी हो सकती है। ऐसे में लोगों को परेशानी हो सकती है। परिवहन विभाग ने तीन साल पहले...

देहरादून में 8 और 9 अक्टूबर को होगा संजीवनी दीपावली मेले का आयोजन

मेले में ऐपण की साड़ियाँ, मिट्टी के बर्तन, रिंगाल के उत्पादों समेत उत्तराखंडी उत्पादों की दिखेगी झलक  देहरादून। राजधानी में पिछले सालों की भाँति इस...

राज्यपाल गुरमीत सिंह पहुंचे केदारनाथ धाम, बाबा के दर्शन कर लिया आशीर्वाद

देहरादून। उत्तराखंड के राज्यपाल गुरमीत सिंह आज सुबह केदारनाथ धाम पहुंचे। उन्होंने बाबा केदार के दर्शन कर पूजा अर्चना की। इसके बाद राज्यपाल रुद्रप्रयाग पहुंचे।...

शरद ऋतु के शुरु होते ही सरोवर नगरी नैनीताल में उमड़ने लगी पर्यटकों की भीड़, अधिकांश होटलों में बुकिंग हुई फुल

नैनीताल। सरोवर नगरी नैनीताल में ऑटम सीजन यानी शरद ऋतु शुरू होते ही देशभर से भारी संख्या में सैलानी पहुंच रहे हैं। दिल्ली एनसीआर, गुजरात...

पानी पीकर भी हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल कर सकते हैं आप, जानिए क्या है सही तरीका

पानी पीने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन सही रहता है। पानी शरीर को हाइड्रेट रखता है। हाई बीपी को कंट्रोल करने के लिए पानी...

अजय देवगन की मैदान की नई रिलीज डेट जारी, अगले साल 17 फरवरी को होगी रिलीज

अभिनेता अजय देवगन अपनी स्पोर्ट्स ड्रामा फिल्म मैदान को लेकर काफी समय से चर्चा में हैं। कई बार इस फिल्म की रिलीज डेट टल...

कांग्रेस की यही मुश्किल

रास्ता संभवत: यही है कि राहुल गांधी जनता के बीच जाकर पार्टी की प्रासंगिकता को फिर से जीवित करने के प्रयास में जुटे रहें।...

देहरादून मे संपन्न हुआ दो दिवसीय फिक्की फ्लोर बाजार 

देहरादून। फिक्की फ्लो उत्तराखण्ड चैप्टर का दो दिवसीय फिक्की फ्लो बाजार आज धूम धाम से समाप्त हुआ । आज विधानसभा स्पीकर ऋतु खंडूरी फिक्की...

Recent Comments