Home उत्तराखंड होली की खुशियां मातम में बदली, चार युवकों समेत छह नदी में...

होली की खुशियां मातम में बदली, चार युवकों समेत छह नदी में डूबे

श्रीनगर गढ़वाल। होली के दिन अलकनंदा नदी में नहाते समय गढ़वाल विश्‍वविद्यालय के दो छात्र नदी में बह गए। इसमें एक छात्र का शव बरामद कर लिया गया है, जबकि दूसरे की तलाश की जा रही है। दोनों छात्र मूल रूप से राजस्‍थान के रहने वाले हैं। ये छात्र यहां किराये के कमरे में रहकर गढ़वाल विवि से पढ़ाई कर रहे थे।

पुलिस ने बताया कि घटना शुक्रवार दोपहर लगभग 12 बजे की है। होली के खेलने के बाद चौरास कैंपस से तीन छात्र पुराना झूला पुल (हनुमान मंदिर) के पास अलकनंदा नदी में नहाने के लिए उतरे। इसी दौरान अलकनंदा नदी में नहाते समय हरिओम (21 वर्षीय) पुत्र ओम प्रकाश मूल निवासी जनुन्तर डींग भरतपुर राजस्थान और अंकित (19 वर्षीय) पुत्र बींजाराम मूल निवासी झारसर छोड़ा थाना तारानगर चुरू राजस्‍थान का पैर फिसल गया। दोनों नदी के तेज बहाव में बहने लगे। यह देख उनके साथी अभिषेक शर्मा मूल निवासी आसपुरा सीकर ने शोर मचाया। साथ ही इसकी सूचना पर कीर्तिनगर पुलिस को दी।

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर नदी में बहे दोनों छात्रों की तलाश शुरू की। कीर्तिनगर कोतवाल चंद्रभान ने बताया कि छात्र अंकित का शव नदी से बरामद कर लिया गया है, जबकि छात्र हरिओम की तलाश जारी है। कोतवाल चंद्रभान ने बताया कि हरिओम गढ़वाल विश्‍वविद्यालय चौरास परिसर में बीएससी तृतीय वर्ष का छात्र है और मढ़ी कालोनी में किराये के कमरे में रहता है, जबकि अंकित बीएससी प्रथम वानिकी का छात्र है और मढ़ी में ही किराये के एक अन्य कमरे में रहता है।

एक अन्‍य मामले में चम्‍पावत जिले के बनबसा  में होली के दिन परिवारों की खुशियां मातम में बदल गईं। चंपावत जिले के बनबसा में हुड्डी नदी में नहाते समय दो नाबालिग बंच्चो की डूबने से मौत हो गई। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे स्वजनों और पुलिस ने नदी से निकालकर दोनों बच्चों को अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। बच्चों की मौत के बाद से स्वजनाें में कोहराम मचा हुआ है।

शुक्रवार सुबह करीब 08.45 बजे वियोम चंद सोराड़ी पुत्र त्रिलोक चंद सोराड़ी निवासी भजनपुर बनबसा और रितेह बटोला पुत्र महेंद्र बटोला उम्र 17 वर्ष निवासी निकट बैंक ऑफ बड़ौदा समीप बनबसा दोनो नहाने के लिए हुडडी नदी गए थे । नहाते समय दोनों अचानक गहरे पानीे में डूबने लगे। बच्चों के डूबने की खबर सुनकर मौके पर पहुंचे लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से दोनों नाबालिगों को पानी से बाहर निकाला। जिसके बाद 108 की मदद से दोनो को टनकपुर के संयुक्त चिकित्सालय ले जाया गया जहा चिकित्सकों द्वारा उनहे मृत घोषित कर दिया गया। सूचना के बाद दोनों बच्चो के परिजन भी पहुंच गए हैं, जिनका रो रोकर बुरा हाल है । होली पर्व के दिन ऐसी ह्रदय विदारक घटना के बाद क्षेत्र मे शोक की लहर है। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजने के बाद स्वजनों को सौंप दिया।

तीसरी घटना उत्‍तराकाशी जिले की है, यहां होली के दिन अलग अलग जगह दो युवक नदी में डूब गए। सूचना पर पहुंची एसडीआरएफ और आइटीबीपी की टीम मौके पर पहुंच गई है। नदी में रेस्‍क्‍यू आपरेशन चलाया। उत्‍तरकाशी जनपद के भटवाड़ी ब्लाक के अठाली गांव का युवक भागीरथी नदी में डूब गया। बताया गया कि युवक अजय गुसाईं (23 वर्ष) पुत्र भगवान सिंह गुसाईं ग्राम अठाली उपतहसील जोशियाड़ा तहसील भटवाड़ी होली खेलने के बाद भागीरथी नदी में नहाने गया। इसी दौरान युवक अचानक भागीरथी बहाव में बहने लगा। सूचना पर उत्तरकाशी से आपदा प्रबंधन, एसडीआरएफ, आइटीबीपी की टीम मौके पर पहुंच गई और रेस्‍क्‍यू आपरेशन शुरू किया गया है।जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल ने बताया किया अन्‍य  घटना इंद्रावती नदी में मानपुर किशनपुर गेंडा पुल के पास हुई। यहां एक युवक नदी में डूब गया। युवक की पहचान राजा (24 वर्ष) पुत्र नागेंद्र पंवार ग्राम धराली हाल बड़ेथी निवासी के रूप में हुई।

RELATED ARTICLES

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सिविल सेवा के 97वें कॉमन फाउंडेशन कोर्स के समापन समारोह को किया संबोधित

मसूरी । राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने शुक्रवार को लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी मसूरी में सिविल सेवा के 97वें कॉमन फाउंडेशन कोर्स के...

शादी के 10 दिन बाद हुई विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, जानिए पूरा मामला

देहरादून। शादी के 10 दिन बाद एक विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसका शव पति की मौसी के घर फंदे पर...

राष्ट्रपति ने नक्षत्र वाटिका का उद्धाटन कर किया पलाश पौधे का रोपण

देहरादून। महामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने शुक्रवार को उत्तराखण्ड प्रवास के दूसरे दिन प्रातः राजभवन स्थित राज प्रज्ञेश्वर महादेव मंदिर में विधिवत पूजा अर्चना...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सिविल सेवा के 97वें कॉमन फाउंडेशन कोर्स के समापन समारोह को किया संबोधित

मसूरी । राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने शुक्रवार को लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी मसूरी में सिविल सेवा के 97वें कॉमन फाउंडेशन कोर्स के...

शादी के 10 दिन बाद हुई विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, जानिए पूरा मामला

देहरादून। शादी के 10 दिन बाद एक विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसका शव पति की मौसी के घर फंदे पर...

एयरटेल ने 184 देशों में यात्रा के लिये लांच किया ‘वर्ल्ड पास’ पैक

नयी दिल्ली । दूरसंचार सेवा कंपनी एयरटेल ने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की सेवाओं को चालू रखने के लिये ‘एयरटेल वर्ल्ड पास’ लॉन्च किया है। एयरटेल ने...

राष्ट्रपति ने नक्षत्र वाटिका का उद्धाटन कर किया पलाश पौधे का रोपण

देहरादून। महामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने शुक्रवार को उत्तराखण्ड प्रवास के दूसरे दिन प्रातः राजभवन स्थित राज प्रज्ञेश्वर महादेव मंदिर में विधिवत पूजा अर्चना...

शादी समारोह में तमंचे पर डिस्को करना पड़ा युवकों को भारी, पढ़िए पूरी खबर

हरिद्वार। हरिद्वार के श्यामपुर क्षेत्र में एक विवाह समारोह में दो युवकों को तमंचे लहराकर डिस्को करना भारी पड़ गया। एसएसपी अजय सिंह को भेजे...

युवक ने रचाईं तीन शादियां तो पत्नियों ने किया चौकी में हंगामा, जानिए पूरा मामला

कोटद्वार। कोतवाली में एक ऐसा दिलचस्प मामला सामने आया है जिसमें एक युवक ने बिना तलाक लिए दूसरी शादी कर ली। इसके बाद उसने दूसरी...

रेट्रो वॉकिंग क्या है और इससे कौन से 5 बड़े फायदे मिलते हैं?

रेट्रो वॉकिंग का मतलब पीछे की ओर यानी उल्टा चलना है और इसे रिवर्स वॉकिंग भी कहते हैं। नॉर्मल वॉकिंग की तुलना में यह...

हिमाचल में पांच साल बाद सरकार बदलने का रिवाज इस बार भी रहा कायम

शिमला। हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की कुल 68 सीटें हैं और बहुमत के लिए 35 सीटों की आवश्यकता रहती होती है। अभी तक के...

कंगना रनौत ने चंद्रमुखी 2 की शूटिंग की शुरू, तस्वीर शेयर कर दी जानकारी

अभिनेत्री कंगना रनौत पिछले कुछ समय से चंद्रमुखी 2 को लेकर चर्चा में हैं। यह 2005 में आई तमिल फिल्म चंद्रमुखी का सीक्वल है।...

जीएम फसलों को ना कहना होगा

भारत डोगरा हाल के वर्षो में किसानों के संकट का एक बड़ा कारण यह है कि उनकी आत्मनिर्भरता और स्वावलंबिता में भारी गिरावट आई है...

Recent Comments