Wednesday, June 29, 2022
Home अंतर्राष्ट्रीय यूक्रेन में पुतिन के पास अब कई विकल्प हैं: ऑस्टिन

यूक्रेन में पुतिन के पास अब कई विकल्प हैं: ऑस्टिन

वाशिंगटन। अमेरिका के रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन ने शुक्रवार को कहा कि यूक्रेन की सीमा के निकट बड़ी संख्या में रूसी बलों को तैनात किया जा चुका है और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के पास अब कई सैन्य विकल्प हैं।
ऑस्टिन ने पेंटागन में संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हम यह नहीं मानते कि राष्ट्रपति पुतिन ने यूक्रेन के खिलाफ इन बलों का इस्तेमाल करने का अंतिम निर्णय ले लिया है, लेकिन उनके पास स्पष्ट रूप से ऐसा करने की क्षमता है।’’

इस बीच, मॉस्को में रूस सरकार ने बताया कि पुतिन ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों से कहा कि पश्चिमी देशों ने रूस की सुरक्षा संबंधी चिंताओं पर गौर नहीं किया।रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने कहा कि रूस युद्ध शुरू नहीं करना चाहता, लेकिन वह पश्चिमी देशों को उसके सुरक्षा हितों को रौंदने नहीं देगा।ऑस्टिन ने पुतिन से तनाव कम करने की अपील की। उन्होंने कहा कि वह रूस द्वारा ‘‘दुष्प्रचार’’ किए जाने पर नजर रखे हुए हैं।

संवाददाता सम्मेलन में ऑस्टिन के साथ मौजूद ‘ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टॉफ’ के आर्मी जनरल़़ मार्क मिले ने यूक्रेन के निकट तैनात रूस की सेना की गंभीर तस्वीर पेश करते हुए कहा कि केवल जमीन, वायु और जल क्षेत्र में ही बलों को तैनात नहीं किया गया है, बल्कि रूस के पास साइबर और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध की क्षमताएं भी है और उसके पास विशेष अभियान बल भी हैं। मिले ने कहा कि उन्होंने पहले कभी इतनी बड़ी संख्या में यूक्रेन की सीमा के निकट रूसी बलों की तैनाती नहीं देखी। उन्होंने पुतिन ने संघर्ष के बजाय कूटनीतिक मार्ग अपनाने की अपील की।अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने बृहस्पतिवार को यूक्रेन के राष्ट्रपति को आगाह किया था कि इस बात की ‘‘स्पष्ट आशंका’’ है कि रूस फरवरी में उनके देश (यूक्रेन) के खिलाफ सैन्य कार्रवाई कर सकता है।

रूस ने यूक्रेन की सीमा के निकट 1,00,000 से अधिक सैनिकों को तैनात किया है, जिससे इस क्षेत्र में युद्ध की आशंका तेज हो गई है। रूस ने लगातार इस बात से इनकार किया है कि वह यूक्रेन पर हमले की योजना बना रहा है, लेकिन अमेरिका और उसके नाटो (उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन) सहयोगियों का मानना है कि रूस युद्ध की ओर बढ़ रहा है तथा इसके लिए तैयारी कर रहा है। रूस की मुख्य मांगों में नाटो में यूक्रेन को शामिल नहीं करना और क्षेत्र से ऐसे हथियारों को हटाना शामिल है, जिससे रूस को खतरा हो सकता है।

अमेरिका और नाटो रूस की मुख्य मांगों को दृढ़ता से खारिज कर चुके हैं। हालांकि तनाव कम करने के लिए अमेरिका ने उन मुद्दों को रेखांकित किया है जिन पर वार्ता की जा सकती है। अब, रूस के राष्ट्रपति पुतिन इन प्रस्तावों पर फैसला करेंगे और इससे यह तय होगा कि यूक्रेन पर हमला होगा या नहीं।इस बीच, क्रेमलिन (रूस के राष्ट्रपति कार्यालय) ने कहा है कि अमेरिका और नाटो की प्रतिक्रिया के बाद ‘‘उम्मीद की बहुत कम गुंजाइश बचती है।’’

RELATED ARTICLES

अमेरिकी महिलाएं अब कैसे कराएंगी गर्भपात, प्रग्नेंसी को खत्म करने के लिए बढ़ेगा पिल्स का इस्तेमाल?

वॉशिंगटन। अमेरिका के उच्चतम न्यायालय ने रो बनाम वेड मामले में दिए गए फैसले को पलटते हुए गर्भपात के लिए संवैधानिक संरक्षण को समाप्त...

अफगानिस्तान में आया 6.1 तीव्रता का भूकंप, लगभग 255 लोगों की मौत की खबर

अफगानिस्तान में भूकंप के तेज झटके आए है, भूकंप के कारण जन- धन की काफी हानि भी हुई है, वहीं लगभग 255 लोगों की...

कौन हैं रुचिरा कंबोज जो यूनाइटेड नेशंस में भारत की अगली राजदूत नियुक्त हुई?

1987 बैच की भारतीय विदेश सेवा अधिकारी रुचिरा कंबोज को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र में भारत की अगली राजदूत/स्थायी प्रतिनिधि नियुक्त किया गया है।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

कार्बेट टाइगर रिजर्व में अब नहीं आएंगे असम से 10 गैंडे, प्रस्ताव किया गया रद्द

देहरादून।  पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत की सरकार में कार्बेट टाइगर रिजर्व में असम से 10 गैंडे लाने का प्रस्ताव जारी किया गया था,...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रशासनिक भवन, क्वार्टरगार्द एवं बैरक का शिलान्यास कर पुलिस प्रशासन को दी बधाई

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को पुलिस लाईन रेस कोर्स , देहरादून में आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग करते हुए प्रशासनिक भवन, क्वार्टर गार्द...

केदारनाथ धाम में मानसून में भी जारी रहेंगी हेली सेवाएं 

30 जून के बाद हिमालयन कंपनी की ओर से मानसून के दौरान केदारनाथ में दी जाएंगी हेली सेवाएं देहरादून । मानसून के मौसम में हेली...

जुलाई में 14 दिन बंद रहेंगे बैंक, चेक करें छुट्टियों की पूरी लिस्ट

नई दिल्ली। अगले महीने जुलाई में रथ यात्रा और बकरीद जैसे बड़े त्योहार पड़ रहे हैं, ऐसे में अगर आपको बैंक संबंधित कोई जरूरी...

प्रदेशवासियों को जल्द मिलेगी ई-एफआईआर की सुविधा, घर बैठे ही कराई जाएगी एफआईआर दर्ज 

देहरादून।  प्रदेशवासियों को जल्द ही ई-एफआईआर की सुविधा मिलेगी। इसमें घर बैठे ही एफआईआर दर्ज कराई जा सकेगी। प्रारम्भ में वाहन चोरी और गुमशुदा...

अग्निपथ योजना के विरोध में कॉंग्रेस का सत्याग्रह सत्य से मुंह फेरने और युवाओं को बरगलाने वाला:- मनवीर चौहान

देहरादून। भाजपा ने अग्निपथ योजना के विरोध में कॉंग्रेस के सत्याग्रह को सत्य से मुंह फेरने और युवाओं को बरगलाने वाला बताया है ।...

मायावती का फॉर्मूला रहा हिट, आजमगढ़ में हार कर भी कैसे जीत गई बसपा?

लखनउ। लोकसभा उपचुनावों में समाजवादी पार्टी का गढ़ माने जाने वाले आज़मगढ़ में भाजपा के प्रत्याशी निरहुआ की जीत और अखिलेश के चचेरे भाई...

रेलवे में अग्निवीरों को रोजगार देने का खाका तैयार, रेल मंत्री की हरी झंडी इंतजार, जानिए क्या है पूरा प्लान

नई दिल्‍ली । सेना में अग्निपथ योजना को लेकर देशभर में मचे बवाल के बीच केंद्र सरकार इस योजना के तहत सेना में 4...

श‍िवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के खास स‍िपहसालार संजय राउत पर लटक रही है गिरफ्तारी की तलवार, जानिए क्या है 1034 करोड़ का चॉल घोटाला 

मुम्बई। श‍िवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के खास स‍िपहसालार संजय राउत के ख‍िलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने समन जारी क‍िया है। ईडी ने संजय राउत को...

सावधान..! फोन में छिपकर आपकी जासूसी कर रहा है यह App..! Google बोला- ‘तुरंत कर दें Delete’

स्मार्टफोन्स का इस्तेमाल तेजी से बढ़ता जा रहा है. हाल के दिनों में सुरक्षा संबंधी चिंताएं बढ़ रही हैं क्योंकि फर्मों द्वारा विभिन्न ऐप...

Recent Comments