Home उत्तराखंड सहकारिता और स्वरोजगार से ही बदल सकता है उत्तराखंड के पहाड़ी क्षत्रों...

सहकारिता और स्वरोजगार से ही बदल सकता है उत्तराखंड के पहाड़ी क्षत्रों का भविष्य

पशुपालन एवं मिल्क उद्योग के माध्यम से हमारे पहाड़ के महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाया जा सकता है

देहरादून। उत्तराखंड जन विकास सहकारी समिति के महासचिव जगदीश भट्ट ने समिति में जुड़े नए सदस्यों को संबोधित करते हुए कहा ’आत्मनिर्भर उत्तराखंड का निर्माण तभी संभव है जब उत्तराखंड के लोगों को उत्तराखंड में रहकर अपना रोजगार प्राप्त कर सके, अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सके, अच्छी स्वास्थ्य सुविधा लोगों के लिए उपलब्ध हो सके, लघु एवं कुटीर उद्योगों के लिए उचित व्यवस्था मिल सके जिससे रोजगार एवं स्वरोजगार को बढ़ावा दिया जा सके।

उन्होंने कहा हमारे उत्तराखंड के पास अपनी अपार जलसंपदा, भू संपदा एवं वन संपदा के साथ-साथ बर्फीले पहाड़, चार धाम, अन्य धार्मिक एवं तीर्थ स्थल है। हमें अपने संपदा को संरक्षित रखते हुए भविष्य का निर्माण करना है। यह हमारे उत्तराखंड के लोगों के लिए गर्व की बात है कि जिन चीजों को देखने के लिए दुनिया भर के लोग विश्व भ्रमण पर निकलते हैं वह हमारे पास है। पर्यटन के क्षेत्र में हमें अभी बहुत कुछ करना बाकी है चाहे वह धार्मिक हो, आध्यात्मिक हो, एडवेंचर टूरिज्म हो या वेडिंग डेस्टिनेशन, हमें अभी बहुत कुछ इन क्षेत्रों में करना है। आत्मनिर्भर उत्तराखंड बनाने में पर्यटन के अलावा हमारे प्रदेश में अनेकों ऐसे संसाधन है जिससे हम रोजगार का सृजन कर सकते हैं और प्रदेश के लोगों को एक अच्छा जीवन स्तर दे सकते हैं।

मिल्क उद्योग के लिए पशुपालन को और अधिक बढ़ावा दिया जा सकता हैं एवं इस उद्योग के लिए उत्तराखंड को एक केन्द्र बनाया जा सकता है। जहां पर पहाड़ की देसी नस्ल की गाय, भैंस एवं बकरी प्राकृतिक चारा इस्तेमाल करके ऑर्गेनिक दूध का उत्पादन कर सकते हैं। इस उत्पाद को बाजार में अच्छी कीमतों पर बेच सकते हैं एवं अन्य राज्यों मे भी सप्लाई कर सकते है। यह मिल्क उद्योग हमारे पहाड़ के महिलाओं के लिए बहुत ही बेहतर स्वरोजगार के साधन साबित हो सकता है।

वही पशुपालन में बकरी पालन, भेड़ पालन एवं मुर्गी पालन के माध्यम से हम उत्तराखंड को मीट उद्योग में आत्मनिर्भर बना सकते हैं एवं उत्तराखंड से बाहर भी सप्लाई कर सकते हैं। उत्तराखंड के विभिन्न जिलों के वातावरण के अनुसार यह देखा गया है कि हम उत्तराखंड के पारंपरिक देसी नस्ल की बकरियों के साथ-साथ सिरोही, ब्लैक बंगाल, बारबरी, बीटल और जमुनापारी नस्ल कि भी बकरीयां हम प्रदेश के विभिन्न जिलों के वातावरण के अनुसार पाल सकते हैं एवं एक बड़ा मीट उद्योग का व्यापार खड़ा कर सकते हैं। इस मीट उद्योग से उत्तराखंड के महिलाओं के साथ-साथ युवाओं को भी रोजगार मिल सकता है।

मीट उद्योग के साथ-साथ हम अंडा सप्लाई का भी एक सेंटर बन सकते हैं हमारे प्रदेश के वातावरण में हर प्रकार के मुर्गे-मुर्गियों का पालन किया जा सकता है एवं मुर्गे के मीट के साथ साथ हम अंडे के उद्योग का भी विस्तार कर सकते हैं आज के समय में अंडे का इस्तेमाल बहुत अधिक हो रहा है और इन अंडों का डिमांड कभी ना खत्म होने वाला है इसलिए अगर हम यह रोजगार स्थापित कर देते हैं तो वह निरंतर चलता रहेगा।

मीट उद्योग में हम गांव के छोटे बड़े सभी तरह के किसानों के साथ साथ शहर में रह रहे लोगों एवं युवाओं के लिए भी रोजगार पैदा कर सकते हैं। पशु पालन से लेकर मुर्गी पालन के साथ साथ हम पूरे प्रदेश में रिटेल स्टोर का भी स्थापना कर सकते हैं जहां पर उत्तराखंड के किसानों एवं पशु पालकों का निरंतर मांग बनी रहे एवं उनका व्यवसाय चलता रहे। वहीं प्रदेश के सभी शहरों में रिटेल स्टोर की स्थापना की जा सकती है जहां पर प्रदेश में पाले हुए बकरे एवं मुर्गे मुर्गियों को रिटेल स्टोर के माध्यम से लोगों तक पहुंचाया जाए और एक संगठित बाजार का निर्माण किया जाए, जहां पर डिमांड और सप्लाई की कभी कमी ना हो और हर वर्ग के लोगों को इसका लाभ मिलता रहे एवं उनका व्यापार निरंतर चलता रहे।

RELATED ARTICLES

अनुपयोगी घाटियां व जमीनों में उगायी जाएगी मंडुआ, झंगोरा एवं चौलाई

सीएस ने क्षेत्र विस्तार की कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए देहरादून।  मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी ने मंडुआ, झंगोरा व चौलाई का उत्पादन बढ़ाने...

उत्तराखंड पुलिस ने वाहनों के चालान से 43.52 करोड़ कमाए

सी.पी.यू ने 1.14 लाख व अन्य ने 7.28 लाख  चालान काटे काशीपुर। बीते साल 2023 में उत्तराखंड पुलिस ने 8 लाख 42 हजार वाहन चालान...

देश के ताकतवर हस्तियों की रेस में सीएम धामी ने लगाई लंबी छलांग

देश के सौ सबसे ताकतवर प्रमुख व्यक्तियों में सीएम धामी 61 वें पायदान पर देहरादून। लोकसभा चुनाव के दावेदारों के दिल्ली में जारी मंथन के...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

सरकार ने रेलवे यात्रियों को दी बड़ी राहत, 50 प्रतिशत तक घटा दिया ट्रेनों का किराया 

नई दिल्ली।  लोकसभा चुनाव से पहले सरकार ने रेलवे यात्रियों को बड़ी राहत दी है। रेलवे द्वारा पैसेंजर ट्रेन के किरायों को प्री-कोविड स्तर...

अनुपयोगी घाटियां व जमीनों में उगायी जाएगी मंडुआ, झंगोरा एवं चौलाई

सीएस ने क्षेत्र विस्तार की कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए देहरादून।  मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी ने मंडुआ, झंगोरा व चौलाई का उत्पादन बढ़ाने...

भाई के सिर पर सब्बल से हमला कर की हत्या, पिता को भी किया घायल, आरोपी गिरफ्तार

पंजाब। खन्ना के गांव पूनिया में छोटे भाई ने अपने बड़े भाई के सिर पर सब्बल (औजार) से हमला कर उसकी हत्या कर दी।...

उत्तराखंड पुलिस ने वाहनों के चालान से 43.52 करोड़ कमाए

सी.पी.यू ने 1.14 लाख व अन्य ने 7.28 लाख  चालान काटे काशीपुर। बीते साल 2023 में उत्तराखंड पुलिस ने 8 लाख 42 हजार वाहन चालान...

देश के ताकतवर हस्तियों की रेस में सीएम धामी ने लगाई लंबी छलांग

देश के सौ सबसे ताकतवर प्रमुख व्यक्तियों में सीएम धामी 61 वें पायदान पर देहरादून। लोकसभा चुनाव के दावेदारों के दिल्ली में जारी मंथन के...

उच्च शिक्षा में शोध, छात्रवृत्ति व निःशुल्क कोचिंग का मिलेगा अवसर

सरकार ने वर्ष 2024-25 के बजट में किया 7.64 करोड़ का प्रावधान देहरादून। सूबे की शिक्षा व्यवस्था में गुणात्मक सुधार के लिये सरकार ने बजट...

केआइएसएस मानवतावादी सम्मान से सम्मानित किए गए माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक बिल गेट्स

भुवनेश्वर। माइक्रोसॉफ्ट के सह संस्थापक तथा वैश्विक समाज सेवी, बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह-अध्यक्ष बिल गेट्स को उनके सामाजिक कार्यों के लिए...

उत्तराखण्ड के सात लोक कलाकारों को संगीत नाटक अकादमी पुरुस्कार

वर्ष 2022-23 के लिए संगीत नाटक अकादमी सम्मान की घोषणा देहरादून।  संगीत नाटक अकादमी ने अपने पुरस्कारों की घोषणा कर दी है। ये पुरस्कार राष्ट्रपति...

ऊनी कपड़े रखते समय जरूर रखें इन बातों का ध्यान, हमेशा दिखेंगे नए जैसे

जैसे ही सर्दियां खत्म होने वाली होती हैं, हम लोग अब अपने गर्म कपड़े, खासकर ऊनी कपड़े, संभाल कर रखने की सोचते हैं. ये...

पंचायतों के सशक्तिकरण के लिए पंचायत मंत्री ने सदन में प्रस्तुत किया संकल्प पत्र

महाराज ने कहा सबसे पहले पंचायतों को अपने विभागों का करेंगे स्थानांतरण देहरादून। पंचायतीराज मंत्री सतपाल महाराज ने सदन में भारत के संविधान की...

Recent Comments