Home ब्लॉग इंदौर में जन्मी थी लता मंगेश्कर, आखिर जिसका डर था वो ही...

इंदौर में जन्मी थी लता मंगेश्कर, आखिर जिसका डर था वो ही हुआ था…कोरोना…

जन्म 1929…मृत्यु 2022

बलराम गंगवानी
भारत ने अपना सबसे अमूल्य रत्न खो दिया। कोरोना की कर्कश आवाज भारत की स्वर कोकिला को लील गई। आज सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर कोरोना से जंग हार कर दुनिया को विदा कह गईं। आज उन्होंने मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में आखिरी सांस ली। 92 साल की लता जी की 8 जनवरी को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, जिसके बाद उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके भर्ती होने की खबर भी 2 दिन बाद 10 जनवरी को सामने आई थी। उन्होंने कोरोना और निमोनिया दोनों से 29 दिन तक एक साथ जंग लड़ी।उन्हें ब्रीच कैंडी अस्पताल के आई सी यु रखा गया था। लंबे समय से लता ताई का इलाज कर रहे डॉ. प्रतीत समधानी की देखरेख में ही डॉक्टर्स की टीम उनका इलाज कर रही थी। इलाज के दौरान उनकी हेल्थ में सुधार भी देखा जा रहा था। उन्हें लगातार ऑब्जर्वेशन में रखा गया। करीब 5 दिन पहले उनकी सेहत में सुधार होना भी शुरू हो गया था। ऑक्सीजन निकाल दी गई थी लेकिन आई सी यू में ही रखा गया।स्वर कोकिला, दीदी और ताई जैसे नामों से लोकप्रिय लता जी के निधन से पूरे देश में शोक की लहर है। फैंस उनके ठीक होने की दुआएं कर रहे थे, लेकिन आज इस बुरी खबर से करोड़ों संगीत प्रेमियों का दिल टूट गया। सैंकड़ों कालजयी गानों को अपनी आवाज देने वाली लता जी आज अनंत यात्रा पर चली गईं।

घर के नौकर के पॉजिटिव आने के बाद आईं कोरोना की चपेट में
लता जी लगभग दो साल से घर से नहीं निकली थीं। वे कभी-कभी सोशल मीडिया के जरिए अपने फैंस के लिए संदेश देती थीं। बढ़ती उम्र और गिरती सेहत के कारण वे अपने कमरे में ही ज्यादा समय गुजारती थीं। उनके घर के  एक स्टॉफ मेंबर की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद उनका टेस्ट कराया गया था। 8 जनवरी को उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

संगीत की दुनिया के 8 सुरमयी दशक
92 साल की लता जी ने 36 भाषाओं में 50 हजार गाने गाए, जो किसी भी गायक के लिए एक रिकॉर्ड है। करीब 1000 से ज्यादा फिल्मों में उन्होंने अपनी आवाज दी। 1960 से 2000 तक एक दौर था, जब लता मंगेशकर की आवाज के बिना फिल्में अधूरी मानी जाती थीं। उनकी आवाज गानों के हिट होने की गारंटी हुआ करती थी। सन 2000 के बाद से उन्होंने फिल्मों में गाना कम कर दिया और कुछ चुनिंदा फिल्मों में ही गाने गाए। उनका आखिरी गाना 2015 में आई फिल्म डुन्नो वाय में था।करीब 80 साल से संगीत की दुनिया में सक्रिय लता मंगेशकर का जन्म 28 सितंबर 1929 को मध्य प्रदेश के ही इंदौर में हुआ था। 13 साल की छोटी उम्र में 1942 से उन्होंने गाना शुरू कर दिया था। लता जी के पिता पं. दीनानाथ मंगेशकर संगीत की दुनिया और मराठी रंगमंच के जाने पहचाने नाम थे। उन्होंने ही लता जी जो संगीत की शिक्षा दी थी। 5 भाई-बहनों में सबसे बड़ी लता जी की तीन बहनें आशा भोंसले, उषा मंगेशकर, मीना मंगेशकर और भाई हृदयनाथ मंगेशकर हैं।

प्रभु कुंज की आभा गुम
लता मंगेशकर अपनी बहन उषा और भाई हृदयनाथ के साथ मुंबई के पेडर रोड स्थित प्रभुकुंज में पहले फ्लोर पर रहती थीं। कई सालों से वे यहां रह रही थीं। बहन आशा भोंसले भी यहां से कुछ दूरी पर ही रहती हैं। सालों तक प्रभाकुंज सोसायटी की सुबह लता मंगेशकर के संगीत के रियाज से ही शुरू होती रहीं। करीब 4 साल से उनका रियाज खराब सेहत के कारण लगभग बंद सा ही था। नवंबर 2019 में भी लता जी को निमोनिया और सांस की तकलीफ के कारण ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया जा चुका था। जहां वे 28 दिन भर्ती रही थीं। नवंबर 2019 के बाद से उनका घर से निकलना भी लगभग बंद हो चुका था।

2001 में मिला था भारत रत्न
लता मंगेशकर को 2001 में संगीत की दुनिया में उनके योगदान के लिए भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न से नवाजा गया था। इसके पहले भी उन्हें कई सम्मान दिए गए, जिसमें पद्म विभूषण, पद्म भूषण और दादा साहेब फाल्के सम्मान भी शामिल हैं। कम ही लोग जानते हैं कि लता जी गायिका के साथ संगीतकार भी थीं और उनका अपना फिल्म प्रोडक्शन भी था, जिसके बैनर तले बनी फिल्म लेकिन थी, इस फिल्म के लिए उन्हें बेस्ट गायिका का नेशनल अवॉर्ड भी मिला था, 61 साल की उम्र में गाने के लिए नेशनल अवॉर्ड जीतने वाली वे एकमात्र गायिका रहीं। इसके अलावा भी फिल्म लेकिन को 5 और नेशनल अवार्ड मिला था।

RELATED ARTICLES

लू से जिंदगी की जंग हार जाते हैं डेढ़ लाख से अधिक लोग

-डॉ. राजेन्द्र प्रसाद शर्मा बात भले ही अजीब लगे पर यह सच्चाई है कि लू के थपेड़ों से डेढ़ लाख से अधिक लोग जिंदगी की...

मॉरिशस- भारत से हजारों किमी दूर एक भारत

अशोक शर्मा मकर रेखा पर स्थित मॉरीशस को ‘हिंद महासागर का मोती’ कहा जाता है।  प्रसिद्ध अमेरिकी साहित्यकार मार्क ट्वेन ने कहा था, ‘ईश्वर ने...

भयावह खतरा है लू की तीव्रता

ज्ञानेंद्र रावत बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मौसम में आ रहे बदलाव से आगामी महीनों में तापमान में बढ़ोतरी, हीटवेव और उससे उपजे खतरों...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

आज हेमकुंड साहिब के लिए ऋषिकेश से रवाना हुआ श्रद्धालुओं का पहला जत्था

25 मई को खुलेंगे हेमकुंड साहिब के कपाट राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह ने श्रद्धालुओं के जत्थे को किया रवाना ऋषिकेश। हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा ऋषिकेश से...

आईपीएल 2024- एलिमिनेटर मुकाबले में आज रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरु से भिड़ेगी राजस्थान रॉयल्स

अहमदाबाद। आईपीएल 2024 के एलिमिनेटर मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरु की भिड़ंत राजस्थान रॉयल्स के साथ है। यह मुकाबला अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम...

एफपीपीसीए नियम के तहत बिजली के बिल में छह पैसे प्रति यूनिट की होगी बढ़ोतरी

इसी माह से की जाएगी बिजली के बिल में बढ़ोत्तरी  पूरे देश में लागू है एफपीपीसीए का यह नियम  देहरादून। बिजली के दामों के माहवार...

मोदी राज में भारतीय सेना और सीमा दोनों ही सशक्त और सुरक्षित हुए- अनुराग ठाकुर

शिमला। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण और युवा एवं खेल मामलों के मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने  हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में जनसंपर्क अभियान के दौरान...

1 जुलाई से देशभर में लागू होने वाले तीन नए आपराधिक कानूनों के लिए उत्तराखंड पूरी तरह तैयार, जानिए क्या है यह तीन कानून  

 20 जून तक पूरे हो जाएंगे कानूनों की जानकारी के संबंध में सभी प्रशिक्षण देहरादून। पहली जुलाई से देशभर में लागू होने वाले तीन नए...

फिल्म मिस्टर एंड मिसेज माही का दूसरा गाना ‘अगर हो तुम’ जारी, जाह्नवी कपूर और राजकुमार राव की दिखी खूबसूरत केमिस्ट्री

फिल्म मिस्टर एंड मिसेज माही की रिलीज का काउंटडाउन शुरू हो गया है। जान्हवी कपूर और राजकुमार राव अभिनीत रोमांटिक स्पोर्ट्स ड्रामा इस महीने...

दिव्यांग विद्यार्थियों को परीक्षा में मिलेगा अतिरिक्त समय

श्रुत लेखक की भी ले सकेंगे मदद, सरकार ने दी मंजूरी शिक्षा मंत्री डा. रावत ने कहा, दिव्यांग छात्रों को मिलेगी सभी सुविधाएं देहरादून। राज्य सरकार...

हद से ज्यादा आम खाना सेहत के लिए हो सकता है नुकसानदायक

गर्मियों का मौसम आते ही स्वादिष्ट और रसीले फल मैंगो लवर्स की एक्साइटमेंट देखने लायक होती है. फलों का राजा आम अपनी खास तरह...

कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने मनोज तिवारी की चुनाव रणनीति को दिया फाइनल टच 

नई दिल्ली/ देहरादून। कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने उत्तर पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी मनोज तिवारी के प्रस्तावित कार्यक्रमों के संबंध में...

जेजेपी को वोट देने का मतलब अपने वोट को खराब करना- सीएम धामी

खट्टर के नेतृत्व में हरियाणा बहुत आगे बढ़ा- सीएम पानीपत/ देहरादून। उत्तराखण्ड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने करनाल से भाजपा प्रत्याशी मनोहर लाल खट्टर...

Recent Comments