Monday, February 26, 2024
Home उत्तराखंड एम्स ऋषिकेश में हुआ आईवीएफ सेंटर का विधिवत उद्घाटन

एम्स ऋषिकेश में हुआ आईवीएफ सेंटर का विधिवत उद्घाटन

ऋषिकेश। एम्स ऋषिकेश में अब इन विट्रो फर्टिलाइजेशन सेंटर (आईवीएफ) सुविधा शुरू कर दी गई है। स्वास्थ्य सुविधाओं के क्षेत्र में एम्स में शुरू हुई इस सुविधा का लाभ सीधे तौर पर उन दंपतियों को मिलेगा, जिन दंपतियों के शारीरिक कमी की वजह से बच्चे नहीं हो पाते हैं। इस सुविधा को प्रदान करने वाला एम्स ऋषिकेश, उत्तराखंड का पहला सरकारी स्वास्थ्य संस्थान बन गया है। एम्स ऋषिकेश के निदेशक और सीईओ प्रोफेसर अरविंद रघुवंशी ने सोमवार को संस्थान के गायनी विभाग में आईवीएफ सेंटर का विधिवत उद्घाटन किया।

उन्होंने कहा कि देश में कई दंपति बांझपन की समस्या से जूझ रहे हैं। जो महिलाएं बांझपन की समस्या से ग्रसित हैं, उन्हें सामाजिक कलंक, वर्जना और मानसिक प्रभावों का भी सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि एम्स ऋषिकेश में आईवीएफ केंद्र खुलने से उत्तराखंड और आसपास के शहरों में रहने वाले ऐसे सभी लोगों को लाभ मिल सकेगा जो संतान सुख से वंचित हैं और इस सुविधा से माता-पिता का सुख प्राप्त करना चाहते हैं। डीन एकेडेमिक प्रोफेसर मनोज गुप्ता ने कहा कि इस सुविधा को शुरू करने वाला एम्स अस्पताल स्वास्थ्य क्षेत्र में राज्य का पहला सरकारी संस्थान है। अभी तक यह बेहद एक जटिल और महंगा इलाज हुआ करता था, इसलिए अब एम्स ऋषिकेश में शुरू की गई इस सुविधा से मध्यम वर्ग के दंपति भी अपना उपचार करा सकेंगे। मेडिकल सुपरिटेंडेंट प्रो. अश्वनी कुमार दलाल ने कहा कि आज के दौर में ऐसे शादीशुदा दंपति की संख्या ज्यादा बढ़ रही है, जिनकी अपनी कोई संतान नहीं है। इस सुविधा से पुरुष बांझपन और महिला बांझपन दोनों की समस्याओं का निदान संभव है।

प्रसूति और स्त्री रोग विभाग की प्रमुख तथा एम्स के आईवीएफ केंद्र की प्रभारी प्रो. जया चतुर्वेदी ने इस बाबत बताया कि गायनी विभाग पिछले चार वर्षों से बांझपन वाले जोड़ों का प्रबंधन कर रहा है। इसमें बांझ दंपति का काम, ओव्यूलेशन इंडक्शन, फालिक्युलर मानिटरिंग, बांझपन के लिए लेप्रोस्कोपिक और हिस्टेरोस्कोपिक सर्जरी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि यह विभाग इंडियन काउंसिल आफ मेडिकल रिसर्च की गाइडलाइन के अनुसार 45 वर्ष तक की महिलाओं और 50 वर्ष तक के पुरुषों के लिए यह सुविधा प्रदान करेगा। कार्यक्रम के दौरान अस्पताल प्रशासन के प्रो. यूबी मिश्रा, प्रशासनिक अधिकारी शशिकांत, वित्तीय सलाहकार कमांडेंट पीके मिश्रा, गायनी विभाग की प्रो. शालिनी राजाराम, डा. अनुपमा बहादुर, डा. कविता खोईवाल, डा. अमृता गौरव आदि मौजूद थे।

निकट भविष्य में जरूरतमंदों को स्पर्म डोनर भी उपलब्ध कराए एम्स: आईवीएफ केंद्र की नोडल अधिकारी डा. लतिका चावला ने केंद्र में उपलब्ध सुविधाओं के बारे में जानकारी दी। बताया कि आईवीएफ केंद्र में पुरुष शुक्राणुओं की जांच हेतु एंड्रोलाजी लैब ने कार्य करना शुरू कर दिया है और केंद्र में अंतर्गर्भाशयी गर्भाधान (आइयूआइ) की सुविधा भी उपलब्ध है। इसके अलावा इस केंद्र में आइवीएफ प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है। उन्होंने बताया कि निकट भविष्य में एम्स ऋषिकेश संतान से वंचित ऐसे माता-पिता का भी इलाज करेगा, जिनके शरीर में अंडाणु या शुक्राणु नहीं बनते और जिन्हें स्पर्मदाता की आवश्यकता होती है।

RELATED ARTICLES

वन्य जीवों के बढ़ रहे हमलों के बाद वन अधिकारियों के विदेश दौरे पर लगी रोक

मानव-वन्य जीव संघर्ष मामले पर सीएम धामी ने अधिकारियों को लगाई फटकार देहरादून। प्रदेश में गुलदार समेत अन्य जंगली जानवरों के बढ़ रहे हमलों के...

बजट अभिभाषण- पुलिस के आधुनिकीकरण व महिला सुरक्षा पर विशेष फोकस

कैदियों के बेहतर जीवन के लिए जेल विकास बोर्ड का गठन प्रत्येक थाने में महिला डेस्क बनी राज्यपाल के अभिभाषण में देखने को मिली इसकी प्रतिबद्धता देहरादून।...

टनकपुर, काशीपुर व कोटद्वार रेलवे स्टेशन होंगे अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस

40 करोड़ से अधिक की लागत से होगा उत्तराखंड के तीन रेलवे स्टेशनों का पुनर्विकास- सीएम मुख्यमंत्री ने देहरादून से टनकपुर, काशीपुर व कोटद्वार रेलवे...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

वन्य जीवों के बढ़ रहे हमलों के बाद वन अधिकारियों के विदेश दौरे पर लगी रोक

मानव-वन्य जीव संघर्ष मामले पर सीएम धामी ने अधिकारियों को लगाई फटकार देहरादून। प्रदेश में गुलदार समेत अन्य जंगली जानवरों के बढ़ रहे हमलों के...

बजट अभिभाषण- पुलिस के आधुनिकीकरण व महिला सुरक्षा पर विशेष फोकस

कैदियों के बेहतर जीवन के लिए जेल विकास बोर्ड का गठन प्रत्येक थाने में महिला डेस्क बनी राज्यपाल के अभिभाषण में देखने को मिली इसकी प्रतिबद्धता देहरादून।...

टनकपुर, काशीपुर व कोटद्वार रेलवे स्टेशन होंगे अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस

40 करोड़ से अधिक की लागत से होगा उत्तराखंड के तीन रेलवे स्टेशनों का पुनर्विकास- सीएम मुख्यमंत्री ने देहरादून से टनकपुर, काशीपुर व कोटद्वार रेलवे...

अरुणाचल प्रदेश में कांग्रेस को लगा झटका, भाजपा में शामिल हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री निनोंग ईरिंग

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को नार्थ ईस्ट में भी बड़ा झटका लगा है। अरुणाचल प्रदेश में कांग्रेस और नेशनल पीपुल्स पार्टी...

सत्यापन न कराना 19 मकान मालिकों को पड़ा भारी, पौड़ी पुलिस ने लाखों का जुर्माना लगाकर निभायी जिम्मेदारी

आपराधिक गतिविधियों पर अंकुश लगाने हेतु पौड़ी पुलिस का सत्यापन अभियान जारी पौड़ी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पौड़ी श्रीमती श्वेता चौबे द्वारा समस्त थाना प्रभारियों को...

भारत ने इंग्लैंड को चौथे टेस्ट मैच में पांच विकेट से हराया 

नई दिल्ली।  भारत ने चौथे टेस्ट में इंग्लैंड को पांच विकेट से हरा दिया है। इस जीत के साथ टीम इंडिया ने पांच मैचों...

बस्ती में खेल रहे 10 साल के मासूम को गुलदार ने मार डाला 

गुलदार को पकड़ने के लिए कांबिंग में जुटी वन विभाग की टीम  बच्चे को गुलदार के जबड़ों से छीना, नहीं बच पायी जान  देहरादून। ग्रामीण क्षेत्रों में...

बजट सत्र- राज्यपाल ने सरकार की प्राथमिकता व विकास योजनाओं का ब्यौरा किया पेश

राज्यपाल ने अभिभाषण में विकसित उत्तराखंड पर दिया जोर समान नागरिक संहिता का किया उल्लेख देखें, राज्यपाल का मूल अभिभाषण देहरादून। राज्यपाल गुरमीत सिंह ने सोमवार को...

अगर आप भी पिंपल और ऑयली स्किन से हैं परेशान तो कर लीजिए इन चीजों से परहेज

ऑयली स्किन के लोगों को अपनी त्वचा का विशेष ख्याल रखना होता है। ऐसी स्किन सेंसिटिव होती है और रिएक्शन के आसार जल्दी होते...

पीएम मोदी की ‘मन की बात’ का प्रसारण अगले तीन महीने तक बंद, जानिए वजह 

नई दिल्ली। रविवार को प्रधानमंत्री मोदी के ‘मन की बात’ मासिक रेडियो कार्यक्रम का 110वां एपिसोड प्रसारित हुआ। इस मौके पर मोदी ने कहा...

Recent Comments