स्वास्थय

मानसून में पाचन संबंधी समस्याओं से हैं परेशान राहत के लिए अपनाएं ये 5 तरीके

मानसून के मौसम में ज्यादातर लोगों को बार-बार पाचन संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। यह समस्याएं बदलते मौसम के साथ और भी बदतर हो जाती हैं।इस कारण मानसून में पाचन तंत्र को लेकर सतर्क रहना जरूरी है क्योंकि अगर यह ठीक नहीं रहेगा तो इससे आपके सारे शारीरिक कार्यों पर असर पड़ सकता है।आइये आज हम ऐसे 5 हेल्थ टिप्स जानते हैं, जिन्हें अपनाकर आप पाचन संबंधी समस्याओं को दूर रख सकेंगे।

हाइड्रेशन का रखें ध्यान
आंत को स्वस्थ बनाए रखने और शरीर को डिटॉक्सीफाई करने के लिए पानी बहुत जरूरी है।आप अपनी पाचन क्रिया और प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार करने के लिए पानी के अलावा कैमोमाइल चाय, ग्रीन टी और अदरक और नींबू की चाय जैसी हर्बल चाय का सेवन कर सकते हैं।हालांकि, इस दौरान आपको सिर्फ फिल्टर वाला पानी का इस्तेमाल करना चाहिए, ताकि आप जल-जनित बीमारियों से बच सके।डिहाइड्रेशन से निपटने के लिए इन घरेलू नुस्खों को आजमाएं।

स्ट्रीट फूड से बचें
बारिश के मौसम में स्ट्रीट फूड के सेवन से बचना सबसे अच्छा विकल्प है।सडक़ किनारे ठेलों पर बेचे जाने वाले खाद्य पदार्थ हानिकारक बैक्टीरिया के संपर्क में जल्दी आ जाते हैं।इसके अलावा बढ़ी हुई ह्यूमिडिटी भी खाने की गुणवत्ता को प्रभावित कर सकती है।ऐसे दूषित खाद्य पदार्थ खाने से संक्रमण, दस्त और पेट की अन्य परेशानियां हो सकती हैं, इसलिए इस मौसम में स्ट्रीट फूड की बजाय स्वच्छ विकल्प चुनें।

हरी पत्तेदार सब्जियों के सेवन से बचें
हरी पत्तेदार सब्जियां मिट्टी के करीब उगती हैं, इसलिए मानसून के दौरान ऐसी सब्जियों का दूषित होने का खतरा अधिक होता है।हानिकारक बैक्टीरिया इन सब्जियों को खा सकते हैं, जिससे स्वास्थ्य संबंधी जोखिम पैदा हो सकता है।इसके अलावा इन सब्जियों को अच्छी तरह से साफ करना भी मुश्किल हो जाता है, इसलिए ऐसे मौसम में इस तरह की सब्जियों के सेवन से बचें।

सूप का विकल्प चुनें
मानसून के दौरान गर्म सूप पीना आपके पेट के लिए अच्छा होता है।यह न केवल आपके शरीर को गर्म रखता है, बल्कि पाचन तंत्र को भी ठीक रखता है।हालांकि, गाढ़ा सूप पचाने में भारी हो सकता है, इसलिए दाल का सूप या सब्जी स्टॉक का उपयोग करके बनाए गए सूप का सेवन करें।अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए इस सूप में मसाले और जड़ी-बूटियां भी मिलाएं।आप मानसून में ये सूप ट्राई कर सकते हैं।

डाइट में प्रोबायोटिक्स युक्त खाद्य पदार्थ करें शामिल
प्रोबायोटिक्स ऐसे खाद्य पदार्थ हैं, जिनमें लाभकारी बैक्टीरिया होते हैं और ये प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत करने के लिए अच्छे होते हैं।ये आमतौर पर दही, छाछ, पनीर और केफिर में मौजूद होता है।प्रोबायोटिक्स पाचन तंत्र को प्रभावित करते हैं और पोषण को बढ़ावा देकर इसकी स्थिति में सुधार करते हैं।हालांकि, खाते समय सुनिश्चित करें कि ये ठंडे न हो क्योंकि इससे इस मौसम में आपको सर्दी लगने का खतरा हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *