Thursday, December 1, 2022
Home राजनीति कांग्रेस कर रही उत्तराखंडियत का झूठा दावा, राज्य निर्माण को लेकर न...

कांग्रेस कर रही उत्तराखंडियत का झूठा दावा, राज्य निर्माण को लेकर न संघर्ष किया, न संकल्प लिया, मदन कौशिक ने बोला कांग्रेस पर हमला

देहरादून। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष मदन कौशिक ने देहारादून में आयोजित एक पत्रकार वार्ता में कहा कि कॉंग्रेस और उत्तरखंडीयत की बात करने वाले हरीश रावत शुरुआत से राज्य निर्माण के खिलाफ रहे हैं और अब चुनाव में चेहरा बनाने को लेकर हो रही सार्वजनिक सिर फुट्टोव्वल जनता देख रही है। चूंकि उनकी आपसी लड़ाई सोशल मीडिया व अन्य माध्यमों से सार्वजनिक हो गयी है। इसलिए जनहित में हम इस विषय पर भी अपनी बात रख रहे हैं।

उन्होने विस्तार देते हुए कहा कि कोंग्रेसी नेताओं में हो रही यह लड़ाई कोई जनता के लिए नहीं बल्कि अपने लिए दिल्ली दरबार से उत्तराखंड में लूट का लाइसेन्स लेने को लेकर है। क्यूंकि राज्य एवं केंद्र की की अपनी सरकारों के कार्यकाल में इनहोने कभी कोई विकास योजनाएँ राज्य के लिए नहीं शुरू की, उल्टा केंद्र की अटल सरकार द्धारा दिये विशेष औधौगिक पैकेज को भी समय से पहले ही समाप्त करने का कार्य भी इनकी यूपीए सरकार ने किया। साथ ही प्रदेश में भाजपा सरकारों के कार्यकाल में विकास कार्यों को लटकाने भटकाने का करी किया।

यहीं वह कॉंग्रेस है जिसने राज्य निर्माण से जुड़े संसद में रखे प्राइवेट बिल का विरोध किया, इनके बड़े नेताओं ने राजनैतिक महत्वाकांषाओं की पूर्ति के लिए अपनी लांश पर राज्य निर्माण और केंद्र शासित प्रदेश बनाने की मांग की। कॉंग्रेस पार्टी ने उत्तराखंड राज्य निर्माण को लेकर न कभी संघर्ष किया, न संकल्प लिया और न ही कभी इनका लगाव था, और अब उत्तराखंडियत का झूठा दावा कर रहे हैं।

दिवंगत सीडीएस जनरल विपिन रावत और सेना का अपमान करने वाले नेताओं को पार्टी से निकालना तो दूर कभी उनसे माफी भी नहीं मंगवायी द्य अब वीर ग्राम यात्रा निकालकर लोग को भ्रमित करने की कोशिश में हैं। मदन कौशिक ने पत्रकारों के सवालों का जबाब देते हुए कहा कि उत्तराखंड की चाहत बनने का स्वयं ढ़ोल पीटने वाले हरीश रावत को खुद उनकी ही ने ठुकरा दिया है, उनकी अपनी पार्टी में ही अब चाहत नहीं है।

फर्क साफ है कि एक और भाजपा विजय संकल्प यात्रा के माध्यम से अपने विकास कार्यों पर जन आशीर्वाद लेने सूबे के कोने कोने में जा रही है, वहीं दूसरी और कोंग्रेसी जनता के बजाय अपने आलाकमान का आशीर्वाद लेने के लिए दिल्ली के चक्कर काट रहे हैं। फर्क साफ है कि एक और लोकप्रिय भाजपा सरकार की विकास योजनाएँ प्रदेश की जनता को राहत दे रही हैं, वहीं कोंग्रेसी नेताओं में युद्ध से पहले ही हारे हुए योद्धा जैसी छटपटाहट और निराशा नज़र आ रही है। पत्रकार वार्ता में भाजपा की आर से सुरेश जोशी, अनिल गोयल,देवेंद्र भसीन, श्रीमति दीप्ति रावत, विपिन केंथुरा, राजेंद्र सिंह नेगी, संजीव वर्मा, आदि उपस्थित थे।

देहरादून। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष मदन कौशिक ने देहारादून में आयोजित एक पत्रकार वार्ता में कहा कि कॉंग्रेस और उत्तरखंडीयत की बात करने वाले हरीश रावत शुरुआत से राज्य निर्माण के खिलाफ रहे हैं और अब चुनाव में चेहरा बनाने को लेकर हो रही सार्वजनिक सिर फुट्टोव्वल जनता देख रही है। चूंकि उनकी आपसी लड़ाई सोशल मीडिया व अन्य माध्यमों से सार्वजनिक हो गयी है। इसलिए जनहित में हम इस विषय पर भी अपनी बात रख रहे हैं।

उन्होने विस्तार देते हुए कहा कि कोंग्रेसी नेताओं में हो रही यह लड़ाई कोई जनता के लिए नहीं बल्कि अपने लिए दिल्ली दरबार से उत्तराखंड में लूट का लाइसेन्स लेने को लेकर है। क्यूंकि राज्य एवं केंद्र की की अपनी सरकारों के कार्यकाल में इनहोने कभी कोई विकास योजनाएँ राज्य के लिए नहीं शुरू की, उल्टा केंद्र की अटल सरकार द्धारा दिये विशेष औधौगिक पैकेज को भी समय से पहले ही समाप्त करने का कार्य भी इनकी यूपीए सरकार ने किया। साथ ही प्रदेश में भाजपा सरकारों के कार्यकाल में विकास कार्यों को लटकाने भटकाने का करी किया।

यहीं वह कॉंग्रेस है जिसने राज्य निर्माण से जुड़े संसद में रखे प्राइवेट बिल का विरोध किया, इनके बड़े नेताओं ने राजनैतिक महत्वाकांषाओं की पूर्ति के लिए अपनी लांश पर राज्य निर्माण और केंद्र शासित प्रदेश बनाने की मांग की। कॉंग्रेस पार्टी ने उत्तराखंड राज्य निर्माण को लेकर न कभी संघर्ष किया, न संकल्प लिया और न ही कभी इनका लगाव था, और अब उत्तराखंडियत का झूठा दावा कर रहे हैं।

दिवंगत सीडीएस जनरल विपिन रावत और सेना का अपमान करने वाले नेताओं को पार्टी से निकालना तो दूर कभी उनसे माफी भी नहीं मंगवायी द्य अब वीर ग्राम यात्रा निकालकर लोग को भ्रमित करने की कोशिश में हैं। मदन कौशिक ने पत्रकारों के सवालों का जबाब देते हुए कहा कि उत्तराखंड की चाहत बनने का स्वयं ढ़ोल पीटने वाले हरीश रावत को खुद उनकी ही ने ठुकरा दिया है, उनकी अपनी पार्टी में ही अब चाहत नहीं है।

फर्क साफ है कि एक और भाजपा विजय संकल्प यात्रा के माध्यम से अपने विकास कार्यों पर जन आशीर्वाद लेने सूबे के कोने कोने में जा रही है, वहीं दूसरी और कोंग्रेसी जनता के बजाय अपने आलाकमान का आशीर्वाद लेने के लिए दिल्ली के चक्कर काट रहे हैं। फर्क साफ है कि एक और लोकप्रिय भाजपा सरकार की विकास योजनाएँ प्रदेश की जनता को राहत दे रही हैं, वहीं कोंग्रेसी नेताओं में युद्ध से पहले ही हारे हुए योद्धा जैसी छटपटाहट और निराशा नज़र आ रही है। पत्रकार वार्ता में भाजपा की आर से सुरेश जोशी, अनिल गोयल,देवेंद्र भसीन, श्रीमति दीप्ति रावत, विपिन केंथुरा, राजेंद्र सिंह नेगी, संजीव वर्मा, आदि उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने की बड़ी कार्रवाई, पार्टी ने किया सात बागी नेताओं को बाहर

गुजरात। गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी की ओर से बड़ी कार्रवाई की गई है। पार्टी ने सात बागी नेताओं को बाहर का...

गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी ने हार्दिक पटेल और रविंद्र जड़ेजा की पत्नी को उतारा मैदान में

गुजरात। गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने अपने 160 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है। भाजपा ने घाटलोडिया विधानसभा सीट से मुख्यमंत्री...

हिमाचल: विधानसभा चुनाव से पहले लगा कांग्रेस को झटका, पार्टी छोड़ 26 नेताओं ने थामा भाजपा का दामन

हिमाचल। प्रदेश में विधानसभा चुनाव से कांग्रेस को एक बड़ा झटका लगा है। मतदान से महज चार दिन पहले प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व महासचिव...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

विधानसभा में बैकडोर नियुक्तियों पर हाईकोर्ट ने सरकार से मांगा जवाब

देहरादून। हाईकोर्ट ने राज्य विधानसभा में बैकडोर नियुक्तियों का संज्ञान लेते हुए सरकार का जवाब तलब किया है। देहरादून निवासी समाजसेवी अभिनव थापर ने जनहित...

सदन में अपने जवाबों व तर्कों से आज छाई रही मंत्री रेखा आर्या, विधायक सवालों के जवाब से आये सन्तुष्ट नजर

शीतकालीन सत्र का दूसरा दिन कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या के नाम कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या ने महिलाओं को 30 प्रतिशत क्षेतिज आरक्षण के फैसले को...

रूस में बढ़ी भारतीय सामान की मांग, उत्तर प्रदेश से किया जाएगा फल और सब्जियों का निर्यात

उत्तर प्रदेश।  रूस एवं यूक्रेन के बीच हो रहे युद्ध और विश्व के अनेक देशों द्वारा प्रतिबंध लगाए जाने के कारण रूस में भारतीय सामान...

उत्तराखंड में महिलाओं को 30 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण, धामी ने जो कहा वो कर दिखाया

देश के सबसे युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कर रहे हैं वादे पूरे देहरादून । उत्तराखंड सरकार ने राजकीय सेवाओं में महिलाओं को 30 प्रतिशत...

देहरादून में नौवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा पर हुआ जानलेवा हमला, आरोपियों की जांच में जुटी पुलिस

देहरादून। कारगी चौक पर अज्ञात नकाबपोशों ने एक छात्रा को गोली मारने का प्रयास किया। छात्रा ने हौसला दिखाते हुए आरोपितों का डटकर सामना किया।...

सर्दी-खांसी होने पर तुरंत खा लेते हैं एंटीबायोटिक दवाएं? स्वास्थ्य के लिए है खतरा

सर्दी-खांसी से लेकर कई ऐसी छोटी-छोटी समस्याएं हैं, जिनसे तुरंत आराम पाने के चक्कर में ज्यादातर लोग डॉक्टरी सलाह के बिना ही धड़ल्ले से...

पर्वतारोहण व ट्रैकिंग के लिए प्रसिद्ध गंगोत्री नेशनल पार्क और गर्तांगली के गेट शीतकाल के लिए कल किए जाएंगे बंद

उत्तरकाशी। पर्वतारोहण व ट्रैकिंग के लिए प्रसिद्ध गंगोत्री नेशनल पार्क और गर्तांगली की सैर के लिए पर्यटकों को अब अगले वर्ष एक अप्रैल तक का...

रणवीर सिंह की सर्कस का टीजर जारी, डबल रोल में दिखे अभिनेता

अभिनेता रणवीर सिंह की कॉमेडी फिल्म सर्कस जल्द सिनेमाघरों में दस्तक देगी। फिल्म क्रिसमस के अवसर पर 23 दिसंबर को दर्शकों के बीच आ...

सीएम धामी आज दिल्ली में भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में एक रोड शो और तीन जनसभाओं को करेंगे संबोधित

देहरादून। दिल्ली नगर निगम चुनाव में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की मांग लगातार बढ़ती जा रही है। वह बुधवार को दिल्ली में भाजपा प्रत्याशियों के...

गुजरात को ऐसे जीतना क्या जीतना?

हरिशंकर व्यास नरेंद्र मोदी गुजरात जीतेंगे लेकिन योगी आदित्यनाथ के बूते यदि जीते तो मोदी-शाह के लिए क्या डूबने वाली बात नहीं? यदि आम आदमी...

Recent Comments