Home राष्ट्रीय योगी के नए मंत्रिमंडल पर मंथन: देखिये कौन कौन होगा शामिल

योगी के नए मंत्रिमंडल पर मंथन: देखिये कौन कौन होगा शामिल

यूपी। प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार-02 का मंत्रिमंडल भाजपा के मिशन 2024 के एजेंडे को ध्यान में रखकर गठित होगा। मंत्रिमंडल में युवाओं, महिलाओं के साथ अनुभव को प्राथमिकता दी जाएगी। साथ ही लोकसभा चुनाव 2024 में 50 प्रतिशत से अधिक मत प्राप्त करने के उद्देश्य से पश्चिम से पूर्वांचल तक जातीय और क्षेत्रीय संतुलन साधा जाएगा।

योगी मंत्रिमंडल के गठन को लेकर बुधवार को दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय में करीब साढ़े चार घंटे तक चली बैठक में उप मुख्यमंत्री, कैबिनेट, राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार और राज्यमंत्रियों के नामों पर मंथन हुआ। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, महामंत्री संगठन बीएल संतोष, चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डॉ. दिनेश शर्मा और महामंत्री संगठन सुनील बंसल की मौजूदगी में हुई बैठक में करीब दो से तीन उप मुख्यमंत्री, दो दर्जन से अधिक कैबिनेट मंत्रियों, करीब 11 से 12 राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार और दस राज्यमंत्रियों के नामों पर मंथन हुआ।

जाटव समाज को ज्यादा नुमाइंदगी
चुनाव परिणाम के आंकड़े बताते हैं कि भाजपा ने बसपा के जाटव वोट बैंक में सेंध लगाने में सफलता हासिल की है। जाटव वोटों पर कब्जा बनाए रखने के लिए सरकार में जाटव समाज से दो से तीन मंत्री बनाए जा सकते है। वहीं, पार्टी की जीत में महिलाओं का भी बड़ा योगदान रहा है, इसलिए मंत्रिमंडल में इनकी भी पर्याप्त नुमाइंदगी रहेगी। भाजपा नेतृत्व का मानना है कि जितनी बड़ी जीत मिली है उतनी ही बड़ी जिम्मेदारी सरकार पर है। इसके मद्देनजर मंत्रिमंडल में ऐसे विधायकों को शामिल किया जाएगा जो सरकार के साथ संगठन के एजेंडे को पूरा कर जनता की अदालत में बेहतर परिणाम दिला सकें। पार्टी ने मंत्रिमंडल में युवाओं और महिलाओं के साथ अनुभवी नेताओं को जगह देने का निर्णय किया है।

खरे न उतरने वाले मंत्रियों का पत्ता कटेगा
योगी सरकार 0.1 में सरकार और संगठन की अपेक्षा के अनुरूप काम नहीं करने वाले मंत्रियों को सरकार में दोबारा जगह नहीं दी जाएगी। वहीं, नई लीडरशिप डेवलप करने के लिए पहली और दूसरी बार जीतकर आए कुछ नए चेहरों को मौका दिया जाएगा। मंत्रिमंडल में ब्राह्मण, ठाकुर, वैश्य के साथ जाट, कुर्मी, कुशवाहा, भूमिहार, पासी, कोरी समाज को पर्याप्त प्रतिनिधित्व दिया जाएगा।

होली के बाद आएंगे शाह
भाजपा के विधायक दल के नेता के चुनाव के लिए नियुक्त पर्यवेक्षक केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और सह पर्यवेक्षक रघुवर दास होली के बाद लखनऊ आएंगे। शाह का 19 या 20 मार्च को आना प्रस्तावित है। उनकी मौजूदगी में भाजपा विधायक दल का नेता चुना जाएगा।

सहयोगी दलों को दो से चार पद 
मंत्रिमंडल में भाजपा के सहयोगी अपना दल (एस) और निषाद पार्टी को दो से चार पद दिए जाएंगे। भाजपा नेतृत्व पहले चरण में दोनों दलों को एक एक पद देने पर विचार कर रहा है, लेकिन दोनों सहयोगी दल कम से कम दो दो मंत्री पद मांग रहे है।

सीएम के शपथ ग्रहण कार्यक्रम के लिए 7 पीसीएस संबद्ध
नई सरकार केगठन के लिए होने वाले शपथ ग्रहण कार्यक्रम के लिए शासन ने 7 पीसीएस अधिकारियों को लखनऊ के जिला प्रशासन से संबद्ध किया है। नियुक्ति विभाग के विशेष सचिव की ओर से बुधवार को जारी आदेश के मुताबिक लखनऊ के डीएम के अनुरोध पर शासन ने इन अधिकारियों को संबद्ध किया गया है। डीएम ने शासन को पत्र लिखा था कि 20 मार्च के बाद सीएम और मंत्रिमंडल का शपथ लेना संभावित है। इसमें प्रधानमंत्री, गृहमंत्री समेत तमाम विशिष्ट अतिथियों के अलावा करीब 70 हजार लोगों के उपस्थित रहने की संभावना है। इसलिए 19 मार्च की शाम से 7 पीसीएस अधिकारियों को संबद्ध करने का अनुरोध किया गया था। इनमें अपर निदेशक नागरिक उड्डयन विश्वभूषण मिश्र, उप आवास आयुक्त प्रफुल्ल कुमार त्रिपाठी, उप निदेशक मंडी संतोष कुमार व चंदन कुमार पटेल, एलडीए के ओएसडी द्वय अरुण कुमार सिंह व अमित कुमार राठौर और एसडीएम बाराबंकी शंभू शरण शामिल हैं।

RELATED ARTICLES

हिमाचल में पांच साल बाद सरकार बदलने का रिवाज इस बार भी रहा कायम

शिमला। हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की कुल 68 सीटें हैं और बहुमत के लिए 35 सीटों की आवश्यकता रहती होती है। अभी तक के...

हिमाचल विधानसभा चुनाव: रिवाज बदलेगा या राज, कड़े मुकाबले के बीच होगा कल फैसला

हिमाचल। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के चुनावी नतीजे गुरुवार 8 दिसंबर को आएंगे। इसके लिए भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों की धुकधुकी बढ़ गई है।...

दिल्ली एम्स में जल्द शुरु हो सकती है ऑनलाइन सेवाएं, ट्रायल रहा सफल

दिल्ली। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), दिल्ली में ऑनलाइन सेवाएं जल्द शुरू हो सकती हैं। 23 दिसंबर से प्रभावित हुईं ऑनलाइन सेवाओं को फिर से...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सिविल सेवा के 97वें कॉमन फाउंडेशन कोर्स के समापन समारोह को किया संबोधित

मसूरी । राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने शुक्रवार को लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी मसूरी में सिविल सेवा के 97वें कॉमन फाउंडेशन कोर्स के...

शादी के 10 दिन बाद हुई विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, जानिए पूरा मामला

देहरादून। शादी के 10 दिन बाद एक विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसका शव पति की मौसी के घर फंदे पर...

एयरटेल ने 184 देशों में यात्रा के लिये लांच किया ‘वर्ल्ड पास’ पैक

नयी दिल्ली । दूरसंचार सेवा कंपनी एयरटेल ने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की सेवाओं को चालू रखने के लिये ‘एयरटेल वर्ल्ड पास’ लॉन्च किया है। एयरटेल ने...

राष्ट्रपति ने नक्षत्र वाटिका का उद्धाटन कर किया पलाश पौधे का रोपण

देहरादून। महामहिम राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने शुक्रवार को उत्तराखण्ड प्रवास के दूसरे दिन प्रातः राजभवन स्थित राज प्रज्ञेश्वर महादेव मंदिर में विधिवत पूजा अर्चना...

शादी समारोह में तमंचे पर डिस्को करना पड़ा युवकों को भारी, पढ़िए पूरी खबर

हरिद्वार। हरिद्वार के श्यामपुर क्षेत्र में एक विवाह समारोह में दो युवकों को तमंचे लहराकर डिस्को करना भारी पड़ गया। एसएसपी अजय सिंह को भेजे...

युवक ने रचाईं तीन शादियां तो पत्नियों ने किया चौकी में हंगामा, जानिए पूरा मामला

कोटद्वार। कोतवाली में एक ऐसा दिलचस्प मामला सामने आया है जिसमें एक युवक ने बिना तलाक लिए दूसरी शादी कर ली। इसके बाद उसने दूसरी...

रेट्रो वॉकिंग क्या है और इससे कौन से 5 बड़े फायदे मिलते हैं?

रेट्रो वॉकिंग का मतलब पीछे की ओर यानी उल्टा चलना है और इसे रिवर्स वॉकिंग भी कहते हैं। नॉर्मल वॉकिंग की तुलना में यह...

हिमाचल में पांच साल बाद सरकार बदलने का रिवाज इस बार भी रहा कायम

शिमला। हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की कुल 68 सीटें हैं और बहुमत के लिए 35 सीटों की आवश्यकता रहती होती है। अभी तक के...

कंगना रनौत ने चंद्रमुखी 2 की शूटिंग की शुरू, तस्वीर शेयर कर दी जानकारी

अभिनेत्री कंगना रनौत पिछले कुछ समय से चंद्रमुखी 2 को लेकर चर्चा में हैं। यह 2005 में आई तमिल फिल्म चंद्रमुखी का सीक्वल है।...

जीएम फसलों को ना कहना होगा

भारत डोगरा हाल के वर्षो में किसानों के संकट का एक बड़ा कारण यह है कि उनकी आत्मनिर्भरता और स्वावलंबिता में भारी गिरावट आई है...

Recent Comments