Monday, August 15, 2022
Home राष्ट्रीय आखिर कौन है इन मासूमों की मौत का जिम्‍मेदार

आखिर कौन है इन मासूमों की मौत का जिम्‍मेदार

नई दिल्ली। पुरानी सब्जी मंडी इलाके में बहुमंजिला इमारत गिरने से हुई दो मासूमों की मौत की जांच रिपोर्ट आ गई है, लेकिन यह चौंकाने वाला है कि इसमें निगम के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को क्लीन चिट दे दी गई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि चूंकि इमारत पहले से जर्जर नहीं थी और न ही किसी ने इसकी शिकायत की थी, लिहाजा निगम के स्तर पर कोई लापरवाही नहीं हुई है और इसके लिए कोई जिम्मेदार नहीं है। निगमायुक्त ने हादसे के बाद भवन (मुख्यालय) को जांच के आदेश दिए थे। निगमायुक्त संजय गोयल के आदेश के बाद मंगलवार को जांच समिति ने रिपोर्ट सौंप दी। विगत 13 सितंबर को हुए इस हादसे के लिए फिलहाल भूतल पर दुकान चलाने वाले संपत्ति मालिक मोहक अरोड़ा को गिरफ्तार किया गया है। 12 घंटे के निर्माण कार्य पर गिर गई इमारत निगम की जांच रिपोर्ट के अनुसार, घटनास्थल से छह लोगों के बयान लिए गए हैं। इसमें पड़ोसी और आसपास रहने वाले शामिल हैं।

स्थानीय लोगों ने जांच समिति को बताया कि 12 सितंबर की रात को इमारत में बनी दुकान में शटर डालकर निर्माण शुरू किया गया था और 13 सितंबर को 12 घंटे पूरे होने से पहले ही यह घटना हो गई। जांच रिपोर्ट के अनुसार, चूंकि यह इमारत पहले से जर्जर नहीं थी, इसलिए इसमें प्रथमदृष्टया भी निगम की कोई लापरवाही नहीं है। इतना ही नहीं, निगम ने जब इस इलाके में जर्जर इमारतों का सर्वे किया था, इमारत में किसी भी प्रकार की दरार नहीं थी। इमारत में किए जा रहे अवैध निर्माण को लेकर भी निगम के कंट्रोल रूम में कोई शिकायत नहीं आई थी और न ही पुलिस ने इस संबंध में कोई रिपोर्ट निगम को दी। जांच अधिकारियों ने इसी आधार पर सभी को क्लीन चिट दे दी है। 13 सितंबर को पुरानी सब्जी मंडी इलाके में एक बहुमंजिला इमारत गिर गई थी। घटना में रस्ते से मां के साथ गुजर रहे बच्चे प्रियांशु और सौम्य इमारत के मलबे में दब गए थे। बचाव दल ने दोनों बच्चों को मलबे से निकाल लिया था, लेकिन अस्पताल ले जाने पर उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। इस इलाके में 20 इमारतें जर्जर थीं, ऐसे में इस इमारत का भी जर्जर होना इसके ढहने की वजह माना जा रहा था। निगम ने इस घटना के बाद एक बार फिर से जर्जर इमारतों का सर्वे किया है, हालांकि वह रिपोर्ट अभी सार्वजनिक नहीं की गई है। उपायुक्त समेत चार अधिकारियों की भूमिका की भी हुई  जांच समिति ने घटना वाले इलाके में सिविल लाइंस जोन के चार अधिकारियों की भूमिका की भी जांच की। इसमें उपायुक्त सतनाम सिंह, अधिशासी अभियंता संजय शर्मा, सहायक अभियंता केसी रोहिल और कनिष्ठ अभियंता विपिन की भूमिका की भी जांच की गई, लेकिन चूंकि किसी भी प्रकार की शिकायत उक्त इमारत को लेकर नहीं आई थी, इसलिए इन सभी को क्लीनचिट दे दी गई।

जांच रिपोर्ट के अनुसार, चूंकि निगम द्वारा जर्जर इमारतों का किया गया सर्वे तकनीकी नहीं होता है। ऐसे में किसी अधिकारी को भी जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है। कब तक निर्दोषों की जाएगी जान अक्सर इस तरह की घटनाओं में निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों को क्लीनचिट मिल जाती है। ऐसे में सवाल है कि इन घटनाओं के चलते जान गंवाने वालों की मौत का जिम्मेदार कौन है। क्या इसी तरह मासूमों की जान जाती रहेगी और फिर हर बार जांच के नाम पर खानापूर्ति होती रहेगी। स्थानीय लोगों के बयान के अनुसार, 12 सितंबर की रात को भवन में निर्माण शुरू किया गया था और 13 की सुबह घटना हो गई। यह इमारत पहले से खतरनाक नहीं थी। ऐसे में निगम की किसी स्तर पर लापरवाही की पुष्टि नहीं हुई है। -संजय गोयल, निगमायुक्त, उत्तरी दिल्ली नगर निगम

RELATED ARTICLES

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत राम जन्म भूमि परिसर में फहराया गया तिरंगा

लखनऊ।  आजादी के अमृत महोत्सव के क्रम में राम जन्मभूमि परिसर में भी तिरंगा फहराया गया। परिसर में जगह-जगह राष्ट्रीय ध्वज लगाया गया है।...

शेयर बाजार के दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला का हुआ निधन, पीएम मोदी ने किया शोक व्यक्त

दिल्ली।  शेयर बाजार के दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला का निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि उन्होंने रविवार सुबह मुंबई के ब्रीच कैंडी...

अद्भुत होगा सफर जब बादलों में से गुजरेगी आपकी ट्रेन, ये है दुनिया का सबसे ऊंचा चिनाब ब्रिज

नई दिल्‍ली । दुनिया के सबसे ऊंचे चिनाब रेलवे ब्रिज का शनिवार को शुभारंभ हुआ। इस पुल के साथ आजादी के बाद पहली बार श्रीनगर...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दी भारत को बधाई

अमेरिका। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर भारत को बधाई दी।  उन्होंने कहा कि भारतीय-अमेरिकी समुदाय ने अमेरिका को...

CM धामी स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर परेड ग्राउण्ड में ध्वजारोहण कर, पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को विशिष्ट कार्यों के लिए सराहनीय सेवा...

देहरादून।  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर परेड ग्राउण्ड देहरादून में राज्य के मुख्य कार्यक्रम में ध्वजारोहण किया।...

स्वतंत्रता दिवस की 76वीं वर्षगांठ के अवसर पर सीएम धामी ने ध्वजारोहण कर राष्ट्रीय एकता की दिलाई शपथ

देहरादून।  स्वतंत्रता दिवस की 76वीं वर्षगांठ के अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सुबह सबसे पहले मुख्यमंत्री आवास में ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर...

चोट के कारण विश्व चैंपियनशिप से बाहर हुईं सिंधु

 दिल्ली । पूर्व विश्व चैंपियन और भारत की शीर्ष शटलर पुसरला वेंकट सिंधु बाएं पैर में स्ट्रेस फ्रैक्चर होने के कारण विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप...

महिलाओं को चक्कर आने के पीछे हो सकते है ये 10 कारण, जानें और बरतें सावधानी

सिर में अचानक तेज दर्द होना या सिर घूमना, चक्कर आना कहलाता हैं जो कि एक एक सामान्य स्थिति है। कई बार नींद पूरी...

रुबीना दिलैक को माधुरी दीक्षित के सामने डांस करना थोड़ा मुश्किल लगता है

बिग बॉस 14 की विजेता अभिनेत्री रुबीना दिलैक अपने डांस को लेकर उत्साहित हैं लेकिन उतनी नर्वस भी हैं क्योंकि उन्हें बॉलीवुड की च्ीन...

संसद सत्र का बेहतर इस्तेमाल हो

अजीत द्विवेदी संसद का मॉनसून सत्र निर्धारित समय से चार दिन पहले ही समाप्त हो गया। सत्रहवीं लोकसभा में यानी मई 2019 के बाद से...

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत राम जन्म भूमि परिसर में फहराया गया तिरंगा

लखनऊ।  आजादी के अमृत महोत्सव के क्रम में राम जन्मभूमि परिसर में भी तिरंगा फहराया गया। परिसर में जगह-जगह राष्ट्रीय ध्वज लगाया गया है।...

मुख्यमंत्री धामी ने विभाजन विभीषिका स्मृति दिवस’ कार्यक्रम में किया प्रतिभाग

विभाजन की विभीषिका का दर्द सहने वाले 400 सेनानियों को स्मृति चिन्ह देकर किया सम्मानित देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को जेसिस पब्लिक स्कूल,...

राज्यपाल ने आईटीबीपी द्वारा आज़ादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर आयोजित ‘‘वॉकथॉन’’ का किया फ़्लैग ऑफ़

देहरादून। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने रविवार को आईटीबीपी द्वारा आज़ादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर आयोजित ‘‘वॉकथॉन’’ का फ़्लैग ऑफ़...

Recent Comments