Saturday, July 2, 2022
Home ब्लॉग जलवायु परिवर्तन से यह भी

जलवायु परिवर्तन से यह भी

डेढ़ डिग्री तक की वृद्धि से आठ प्रतिशत पौधे अपनी आधी से ज्यादा किस्में खो देंगे। अगर तापमान में दो डिग्री तक का इजाफा हुआ, तो यह आंकड़ा 16 प्रतिशत तक पहुंच जाएगा। कई जीवों और पौधों के लिए बढ़ते तापमान के मुताबिक ढलना अभी से ही मुश्किल हो रहा है।

जलवायु परिवर्तन का किन किन मोर्चों पर असर हो रहा है, इस बारे में अभी दुनिया में पूरी चेतना नहीं है। दुर्भाग्यपूर्ण यह है कि इन खतरनाक परिणामों पर चर्चा भी मामूली होती है। ऐसी बातों को मीडिया में हाशिये पर जगह मिलती है। जबकि हर ऐसी समस्या जलवायु परिवर्तन के व्यापक खतरों से जुड़ी है। हाल में ‘वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर’ (डब्लूडब्लूएफ) ने एक नए पहलू की तरफ ध्यान खींचा है। डब्लूडब्लूएफ ने संयुक्त राष्ट्र के ‘इंटरगवर्नमेंटल पैनल ऑन क्लाइमेट चेंज’ (आईपीसीसी) की एक रिपोर्ट के आधार पर ये बात सामने रखी है। आईपीसी ने बताया है कि ग्लोबल वॉर्मिंग के कारण तापमान में डेढ़ से दो डिग्री सेल्सियस तक की वृद्धि का क्या असर होगा। ताजा जानकारी के मुताबिक डेढ़ डिग्री तक की वृद्धि से आठ प्रतिशत पौधे अपनी आधी से ज्यादा किस्में खो देंगे। अगर तापमान में दो डिग्री तक का इजाफा हुआ, तो यह आंकड़ा 16 प्रतिशत तक पहुंच जाएगा। कशेरुकियों में यह आंकड़ा चार से आठ प्रतिशत तक रहने की आशंका है। कई जीवों और पौधों के लिए बढ़ते तापमान के मुताबिक ढलना अभी से ही मुश्किल हो रहा है, जबकि अभी दुनिया के और गर्म होने की आशंका है।

डब्लूडब्लूएफ ने कहा है कि ग्लोबल वॉर्मिंग के कारण पूरी दुनिया में जीवों और पौधों पर असर पड़ा है। अपनी एक रिपोर्ट ‘फीलिंग द हीट’ में संगठन ने बताया कि मौसम की अतिरेकता से जुड़ी घटनाएं, मसलन- गरम हवा के थपेड़े, सूखा और बाढ़ के कारण जानवरों और पौधों की दुनिया बहुत प्रभावित हो रही है। बढ़ते तापमान के मुताबिक ढलना अभी से ही उनके लिए बहुत मुश्किल साबित हो रहा है। जलवायु परिवर्तन के कारण पैदा होने वाला संकट सुदूर भविष्य से जुड़ी कोई अवधारणा नहीं है। यह हमारे वर्तमान में पहुंच चुका है। हमारे दरवाजे पर खड़ा है। जैसे-जैसे जलवायु गर्म होता जाएगा, हम पर पडऩे वाला दबाव भी बढ़ता जाएगा। डब्लूडब्लूएफ की ताजा रिपोर्ट में जीवों और पौधों की 13 चुनी हुई प्रजातियों पर जलवायु संकट के असर का ब्योरा है। इन प्रजातियों में यूरोप की कुछ मूल प्रजातियां भी शामिल हैं। मसलन- कोयल, बंबल बी, और बीच लाइलाक। ये सभी संरक्षित प्रजातियों में आते हैं। तेजी से गरम हो रही धरती और ध्रुवों के बढ़ते तापमान के कारण समुद्र के जलस्तर में हो रही वृद्धि से इन जीवों के अस्तित्व पर खतरा पैदा हो चुका है।

RELATED ARTICLES

प्रतीक और प्रतिनिधित्व

किसी समुदाय के विशेष के व्यक्ति को ऊंचे पद पर बैठा देने का यह कतई मतलब नहीं होता है कि उस समुदाय का सामाजिक...

खुद चुनाव आयोग में सुधार जरूरी

अजीत द्विवेदी इससे कोई इनकार नहीं कर सकता है कि देश में बड़े चुनाव सुधारों की जरूरत है। इसलिए चुनाव आयोग ने केंद्र सरकार को...

अग्निपथ क्यों बना कीचड़पथ?

वेद प्रताप वैदिक अग्निपथ को हमारे नेताओं ने कीचड़पथ बना दिया है। सरकार की अग्निपथ योजना पर पक्ष-विपक्ष के नेता कोई गंभीर बहस चलाते, उसमें...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

‘डाक्टर्स डे‘ पर 21 डाक्टरों का किया सम्मान

- सांसद नरेश बंसल ने लिंगानुपात बढ़ने पर जतायी चिन्ता - मेयर गामा ने की सिंगल यूज्ड प्लास्टिक का उपयोग रोकने की अपील देहरादून। राज्यसभा सांसद...

CM धामी ने कन्याश्री कार्यक्रम में प्रतिभाग कर, छात्राओं को वितरित की साईकिल

सामाजिक विकास में स्वयंसेवी संस्थाओं का बताया विशेष योगदान। उधम सिंह नगर। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि रोटरी क्लब सेवा, सहायता एवं समर्पण का...

स्मैक तस्करी पर उत्तरकाशी पुलिस ने की कर्रवाई, 8.30 ग्राम स्मैक के साथ 1 युवक गिरफ्तार

उत्तरकाशी। जनपद में नशे को जड़ से खत्म करने की उत्तरकाशी पुलिस की मुहिम लगातार जारी है। पुलिस एक के बाद एक नशा सौदागर को...

उत्तराखंड में मौसम विभाग ने जारी किया 4 जुलाई तक कई जिलों में बारिश का यलो और ऑरेंज अलर्ट

देहरादून। प्रदेश में मानसून की घोषणा होने के साथ ही उत्तराखंड में बारिश के सिलसिले में भी तेजी आई है। गुरुवार को राज्य के अनेक...

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा की कोविड रिपोर्ट एक बार फिर से आई पॉजि़टिव

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा की कोरोना रिपोर्ट फिर से पॉजि़टिव आई है, इससे उनके एजबेस्टन टेस्ट में खेलने पर संशय बरकरार है। प्राप्त जानकारी...

फिलीपींस के 17वें राष्ट्रपति के रूप में फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर ने ली शपथ

मनीला। दिवंगत नेता फर्डिनेंड मार्कोस के बेटे फर्डिनेंड मार्कोस जूनियर ने मनीला के नेशनल म्यूजियम में फिलीपींस के 17वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली।...

सिर पर कांटों का ताज, चलना होगा अग्निपथ पर, 100 दिन सफलता के बीते, चुनौतियों के 1725 दिन बाकी

अवधेश नौटियाल देहरादून । मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के 100 दिन हनीमून पीरियड रहे हैं। वक्त की नजाकत और मतदाताओं के मूड को भांपते हुए...

मानसून के दृष्टिगत सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद: महाराज

केन्द्रीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष का दूरभाष नंबर हुआ जारी देहरादून। मानसून के दृष्टिगत प्रदेश में सिंचाई एवं लोक निर्माण विभाग द्वारा सभी व्यवस्थाएं चाक-चौबंद कर...

जानें प्रेशर कुकर के 3 हैक्स, खाना बनेगा जल्दी

प्रेशर कुकर का इस्तेमाल हमेशा ही बहुत लाभदायक होता है और अगर आपको इससे जुड़े कुछ हैक्स पता हों तब तो ये और भी...

‘तमाशा लाइव’ का प्रमोशन करते हुए टीवी जर्नलिस्ट बनीं सोनाली कुलकर्णी

मराठी फिल्म ‘तमाशा लाइव’ में पत्रकार के रूप में नजर आने वाली अभिनेत्री सोनाली कुलकर्णी को वास्तविक जीवन में समाचार बुलेटिन पढऩे वाली टीवी...

Recent Comments